नई दिल्ली। बहुत से लोगों को सफर करने के दौरान उल्टी चक्कर और जी मिचलाने जैसी समस्या होती है। यह मोशन सिकनेस के कारण होने वाली समस्या है। बहुत से लोगों का मानना है कि लंबे समय के बाद सफर पर निकलने पर ऐसा समस्या होता है, लेकिन यह समस्या उनके साथ भी होती है जो अक्सर ट्रिप जाया करते हैं उन्हें भी उलटी की दिक्कत होती है। खासतौर पर पहाड़ी इलाकों में सफर के दौरान उल्टी की शिकायत बढ़ जाती है। इस समस्या के कारण अगर आप परेशान हैं तो आप इन टिप्स को फॉलो करें-

मोशन सिकनेस से छुटकारा पाने के क्या ट्रिक हैं

अदरक – सफर के दौरान अगर आपका जी मिचलाता है या फिर उल्टी होती है तो आप अपने साथ में अदरक जरूर रखें, जब भी मोशन सिकनेस हो तो आप अदरक को छिलके या फिर एक छोटा टुकड़ा मुंह में रखे। लंबे समय के सफर के दौरान आप इस नुस्खे को अपना सकते हैं अदरक मोशन सिकनेस के लक्षण को कम करता है और इससे उल्टी या मोशन सिकनेस की समस्या नहीं होती है।

पिपरमेंट – जब भी ट्रिप या ट्रेवल पर जाएं अपने साथ पिपरमेंट ऑयल जरूर रखें इसकी दो से तीन बूंद अपने रुमाल पर डालने सफर के दौरान इसे सुंघते रहें ऐसा करने से आपको बहुत राहत मिलेगी। पुदीना में मौजूद मैंनेफॉल पाचन को आसान बनाता है और इसकी खुशबू बहुत तेज होती है जो मतली के लक्षण को रोकने का काम करती है।

नींबू – सफर में अगर उल्टी होती है तो आप नींबू अपने साथ जरूर रखें, नींबू को सुंघने या फिर काटकर खाने से मोशन सीकनेस से राहत मिलता है। जब भी मोशन सिकनेस का अनुभव हो तो आप इस उपाय को अपना सकते हैं। नींबू प्राकृतिक रूप से एसिडिक होता है, ऐसे में आपके पेट के एसिड को बेअसर करने का काम करती है और मतली को कम करती है।

पानी पिए – पर्याप्त मात्रा में सफर के दौरान पानी पीते रहें और लिक्विड लेते रहें ताकि आपका बॉडी हाइड्रेट रहे और मोशन सीकनेस से निपटने में आसानी होगी।

डिहाइड्रेशन होने पर मोशन सिकनेस की समस्या बढ़ जाती है। मोशन सिकनेस को रोकने के टिप्स हैं आराम से रहे यात्रा के दौरान अपने शरीर को स्ट्रेस ना दें, चलती गाड़ी में पढ़ने लिखने आ टाइप करने की गतिविधि ना करें, इससे मोशन सिकनेस और ज्यादा होता हैं।

शराब नहीं पीना चाहिए – खासकर ट्रेवल से पहले ताजी हवा में सांस लेते रहे और धूम्रपान ना करें।


Latest News