News in Hindi

देशभर में खुलने जा रहे हैं 100 जीएसटी क्लीनिक्स, हो हर टैक्स समस्या का समाधान

GST clinics to get open to help traders

देशभर में 30 जून की आधी रात से जीएसटी लागू हो जाएगा। इसे लेकर जनता और व्यापारियों में अभी बहुत सारे कंफ्यूजंस हैं। कुछ लोग इस प्रोसेस को समझने में जुटे हैं, वहीं कुछ इस उधेड़ बुन में उलझे हैं कि इससे उन्हें कितना लाभ होगा और कितना नुकसान। इसी बीच छोटे व्यापारियों के संगठन कैट ने देशभर में 100 जीएसटी क्लीनिक खोलने की बात कही है।

यह जीएसटी क्लीनिक, जीएसटी को अपनाने में व्यापारियों की मदद के लिए खोले जाएंगे। कैट ने अपने बयान में कहा कि वह एचडीएफसी बैंक, टैली सॉल्युशंस और मास्टरकार्ड के साथ मिलकर काम कर रहा है। उनका प्रयास करीब छह करोड़ व्यापारियों तक पहुंचना है। 1 जुलाई से इसका पहला चरण शुरू होगा और व्यापारी समुदाय को नई व्यवस्था को अपनाने में मदद करेगा।

आपको बता दें कि सरकार ने भी भरोसा दिलाया है कि जीएसटी लागू होने के पहले छह महीने आसान रहेंगे। सरकार इस दौरान जीएसटी के नियमों का उल्लंघन में जुर्माना लगाने में उदारता बरतेगी। राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने विश्वास दिलाया कि रिटर्न दाखिल करने में अनजाने में हुई गलतियां और करचोरी के लिए जानबूझकर की गई गलती में भेद किया जाएगा।

उधर ई-कॉमर्स परिचालकों व टीडीएस काटने वाले 25 जून से जीएसटी नेटवर्क पर पंजीकरण करवा सकेंगे। पोर्टल नए पंजीकरणों के लिए फिर खुलेगा। इसके अलावा मौजूदा उत्पाद, सेवा कर और वैट देने वालों को जीएसटीएन पोर्टल पर स्थानांतरण के लिए एक और मौका मिलेगा। उनके लिए भी पंजीकरण रविवार को खुलेगा और यह तीन महीने तक जारी रहेगा।