News in Hindi

दो लाख से ज्यादा कंपनियों को लग सकता है झटका, रद्द हो सकता है रजिस्ट्रेशन

देशभर की करीब दो लाख कंपनियों को झटका लग सकता है। सरकार उन कंपनियों का पंजीकरण रद्द करने की योजना बना रही है जिन्होंने लंबे समय से कोई कारोबार नहीं किया था। यह योजना काले धन पर लगाम लगाने का ही एक प्रयास है। विभिन्न राज्यों की करीब दो लाख से ज्यादा कंपनियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं।

कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय की ओर से उपलब्ध करवाई गई सूचना के अनुसार विभिन्न राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में कंपनी पंजीयकों ने कंपनी कानून 2013 की धारा 248 के तहत इन कंपनियों को नोटिस जारी किए हैं।

जिन कंपनियों को नोटिस सर्व किए गए हैं उन्हें इनका जवाब देना होगा और अगर मंत्रालय उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ तो इन कंपनियों का पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा। आंकड़ों के अनुसार कंपनी पंजीयक मुंबई ने 71000 से अधिक कंपनियों जबकि कंपनी पंजीयक दिल्ली ने 53000 से अधिक कंपनियों को नोटिस जारी किए हैं।