Times Bull
News in Hindi

अर्धसैनिक बलों के रिटायर्ड कर्मियों को भी कैंटीन की सुविधा

अर्धसैनिक बलों के रिटायर्ड कर्मचारियों/ अधिकारियों के लिए खुशखबर है। अब उनको भी सेना के रिटायर्ड फौजियों की तर्ज पर कैंटीन की सुविधा मिलने लगेगी। यह सुविधा राजस्थान में दो जगह जल्द ही शुरू होने वाली है। केन्द्रीय गृह मंत्रालय के पुनर्वास एवं कल्याण निदेशालय ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं। आदेश के तहत पूरे देश में एक साथ दस कैंटीन खोलने की मंजूरी दी गई है। राजस्थान में पहले चरण में झुंझुनूं और नागौर जिले के डीडवाना में कैंटीन खोली जाएगी।

कैंटीन का नाम सेंट्रल पुलिस कैंटीन(सीपीसी) रहेगा। अभी तक केवल सैनिकों, रिटायर्ड सैनिकों व उनके परिजनों को ही कैंटीन की सुविधा मिलती थी। अर्धसैनिक बलों में कार्यरत कर्मचारियों व अधिकारियों को केवल ड्यूटी स्थल पर ही कैंटीन की सुविधा थी। उनको सामान घर तक लाने में असुविधा होती थी। इसके अलावा रिटायरमेंट के बाद उनको यह सुविधा नहीं मिलती थी। एक्स पैरा मिलिट्री पर्सनल वेलफेयर संस्था झुंझुनूं के जिला मीडिया प्रभारी मामराज सिंह ने बताया कि चूरू , झुंझुनूं व सीकर के 30 हजार से अधिक कर्मचारियों व अधिकारियों को फायदा होगा।

बनवाना पड़ेगा कार्ड

अध्यक्ष जेआर चौबदार व मामराज सिंह के अनुसार सीपीसी कैंटीन का सामान लेने से पहले कार्ड बनवाना पड़ेगा।

अर्धसैनिक बलों में यह शामिल

बीएसएफ, सीआरपीएफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ, एसएसबी,असम राइफल्स व अन्य।

राज्य कैंटीन का स्थान

राजस्थान: झुंझुनूं और डीडवाना (नागौर)
हरियाणा: झज्जर और नारनौल
पंजाब: रेडू(जालंधर)
उत्तरप्रदेश: बुलंदशहर
केरल: नेयटिंकरा(त्रिवेंद्रम)
उत्तराखंड: रुडक़ी और कोटद्वार
हिमाचल प्रदेश: अभी स्थान तय न

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Related posts

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...