सीएए का विरोध प्रदर्शन हिंसा में बदला, पुलिस कॉन्स्टेबल रतन लाल की हुई मौत

CAA protests turned into violence, police constable Ratan Lal died

देश की राजधानी दिल्ली में जगह-जगह हो रहे नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध प्रदर्शन ने हिंसा का रुप ले लिया है । वही प्रदर्शनकारियों के बीच हुई हिंसा में दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल की मौत हो गई है और डीसीपी घायल हो गए हैं। इसके अलावा जानकारी के मुताबिक प्रदर्शकारियों की ओर की जा रही पत्थरबाजी में कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।

Namaste Trump LIVE: भारत आने से पहले ट्रंप ने हिंदी में किया ट्वीट, जानिए क्या लिखा ?

रिपोर्ट के मुताबिक कॉन्स्टेबल रतन लाल मौत  की खबर देख कर पत्नी पूनम बेहोश हो गई। रतन लाल मूल रूप से राजस्थान के रहने वाले थे। वह परिवार के साथ बुराड़ी के अमृत विहार में रहते थे। परिवार में पत्नी पूनम, दो बेटियां और एक 9 साल का बेटा है। तीनों बच्चे अभी पढ़ रहे हैं।

नोकिया 9 Pureview हुआ सस्ता: 15,000 रुपए की कटौती के साथ ये है नई कीमत

वही सीएए का विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि वे भारतीय हैं। उनका आरोप है कि सीएए कानून के जरिए उनकी नागरिकता छिनने की तैयारी है। उपद्रवियों के बीच भ्रम है कि देशभर में एनआरसी लाया जाएगा। जबकि खुद प्रधानमंत्री और गृह मंत्री अमित शाह साफ कर चुके हैं कि फिलहाल एनआरसी की कोई बात नहीं हुई है। इसको लेकर कैबिनेट की कोई बैठक तक नहीं हुई है।

Ashok Leyland ने बीएस 6 वाहनों को लेकर  तैयार किया नया मॉड्यूलर प्लेटफॉर्म

दिल्ली के सीएम अरविंद के केजरीवाल ने राजधानी के बेकाबू हालात को देखते हुए चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि मैं ईमानदारी से गृहमंत्री और दिल्ली के उपराज्यपाल से अपील करता हूं कि वह जल्द कानून व्यवस्था को काबू में करने के लिए कदम उठाए। वही दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीटर पर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्‍होंने लिखा, ”सभी दिल्‍लीवासियों से अपील है कि वह शांति बनाए रखें। हिंसा में सबका नुकसान है। हिंसा की आग सबको नुकसान पहुंचाती है जिसकी भरपाई कभी नहीं हो सकती।