भाजपा ने ‘नीच आदमी’ टिप्पणी को सही ठहराने के लिए अय्यर की निंदा की

BJP condemns Aiyar for correcting 'lowly' remarks

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर द्वारा 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘नीच आदमी’ बताए जाने को सही ठहराने के लिए कांग्रेस की निंदा की और कांग्रेस से इस पर जवाब मांगा।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “मैं जानना चाहता हूं कि कांग्रेस उनके (अय्यर) समर्थन पर क्या कहती है।”

यह कहते हुए कि मोदी से पहले किसी दूसरे प्रधानमंत्री को विपक्ष से इतना ज्यादा अपशब्दों का सामना नहीं करना पड़ा, राजनाथ ने कहा, “एक स्वस्थ लोकतंत्र में किसी को भी राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, क्योंकि वह महज व्यक्ति नहीं हैं।”

उन्होंने कहा, “वह संस्थान हैं। और संस्थान की शुचिता किसी कीमत पर कम नहीं की जानी चाहिए। इस तरह के कार्य हमारे लोकतंत्र को कमजोर करते हैं।”

राजनाथ अय्यर द्वारा मंगलवार को राइजिंग कश्मीर में लिखे गए विचार पर प्रतिक्रिया दे रहे थे।

अय्यर ने अपने लेख में लिखा है, “मोदी 23 मई को भारत के लोगों द्वारा बेदखल कर दिए जाएंगे। यह प्रधानमंत्री को उचित जवाब होगा। याद कीजिए मैंने सात दिसंबर, 2017 को उनका कैसे वर्णन किया था?”

अपने लेख में अय्यर ने कहा है कि मोदी को चेतावनी देने की जरूरत है कि वह सेना, सीआरपीएफ जवानों के बलिदान का इस्तेमाल करने व भारतीय वायुसेना को बदनाम करने के लिए राष्ट्र विरोधी गतिविधि के दोषी हैं।

भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने अय्यर को एब्यूजर-इन-चीफ कहा और ट्वीट किया, “अय्यर 2017 में नरेंद्र मोदी पर नीच कटाक्ष को सही ठहराने के लिए लौटे हैं। अय्यर ने तब अपनी खराब हिन्दी का बहाना बनाकर माफी मांगी थी। अब वह कह रहे हैं कि वह भविष्यवक्ता हैं। कांग्रेस ने पिछले साल उनका निलंबन वापस ले लिया था। कांग्रेस का दोहरा चरित्र और अहंकार फिर सामने आया है।”

प्रधानमंत्री को राष्ट्र विरोधी कहने पर राव ने अय्यर को पाक समर्थक बताया और कहा कि राष्ट्र जानता है कि मोदी राष्ट्रभक्ति के प्रतीक हैं।