News in Hindi

अब इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए भी अनिवार्य होगा आधार कार्ड

आधार नंबर का महत्व दिनों दिन बढ़ता जा रह है। केंद्र सरकार अब आयकर रिर्टन भरने के लिए भी आधार नंबर जरूरी करने जा रही है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने हाल ही संसद में फिनांस अमेंडमेंट बिल में इसका प्रस्ताव रखा है। संसद में इसे मंजूरी मिलने के बाद 1 जुलाई से यह लागू हो सकता है।

इस बिल के प्रस्ताव के अनुसार आयकर रिटर्न भरने के अलावा पैन कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए भी आधार नंबर जरूरी होगा। इस प्रस्ताव के अनुसार अगर पैन कार्ड आधार नंबर से लिंक नहीं होगा तो उसे अवैध माना जाएगा।

यह होगा फायदा

आयकर रिटर्न भरने के लिए आधार नंबर को अनिवार्य करने के पीछे मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों को टैक्स के दायरे में लाने की कोशिश है। अब तक करीब 6 करोड़ लोग ही आयकर भरते हैं। इन सबके पास पैन नंबर हैं, जबकि 111 करोड़ आधार नंबर भी जारी किए जा चुके हैं।

ऐसे में आयकर रिटर्न भरते समय आधार नंबर को अनिवार्य करके लोगों पर नजर रखना आसान हो सकेगा। फिलहाल ट्रेन टिकट बुकिंग में होने वाले फर्जीवाड़े को लगाम लगाने के लिए सराकार आधार नंबर जरूरी करने जा रही है। इस सिस्टम के लागू होने के बाद आधार नंबर के बिना आॅनलाइन टिकट बुक नहीं कर सकेंगे।

वरिष्ठ नागरिकों के लिए 1 अप्रेल से कन्सेशन के लिए भी आधार नंबर जरूरी होगा। फिलहाल इसे तीन महीने के ट्रायल के तौर पर लागू किया जाएगा। इसके अलावा प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन लेने के लिए भी आधार नंबर जरूरी है। आधार नंबर अब तक नए सिम लेने, नया बैंक अकाउंट खोलने, सब्सिडी ट्रांसफर करने के लिए जरूरी है।