नई दिल्ली-खाने को स्वादिष्ट बनाने की बात हो या शरीर के गंभीर रोगों के इलाज की बात हो, हमारे रसोई घर में कुछ ऐसे मसाले मौजूद होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि किचन के डिब्बों में मौजूद मसाले डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इनके सेवन से ब्लड शुगर लेवल काफी हद तक बैलेंस में रहता है और ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में भी मदद मिलती है। इन बेहतरीन मसालों में आते हैं मेथी के दाने, अजवाइन और काला जीरा। यह मसाले हर किचन में मौजूद होता है। जिसे सब्जी और अन्य व्यंजनों को स्वादिष्ट बनाने के लिए उपयोग किया जाता है। आइए जानते हैं उनके बेहतरीन गुणों के बारे में-

विभिन्न रिसर्च में यह पाया गया है कि मेथी अजवाइन और काला जीरा ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मददगार पाया गया है। मेथी के बीज एक anti-diabetic के एजेंट के रूप में काम करता है। जिससे हाई ब्लड शुगर को कम करने में सहायता मिलती है। साथ ही फास्टिंग ब्लड शुगर को भी आसानी से कम करता है।

अजवाइन में मौजूद कार्बोहाइड्रेट को मेटाबोलाइज्ड करने के लिए एंजाइम जैसे a-amylase और a-glucosidase मौजूद होते हैं जिससे पोस्ट प्रांडियल हाइपोग्लाइसीमिया को कम करने के लिए फायदेमंद होता है।

कैसे करें उपयोग

डाइटिशियन गरिमा के मुताबिक मसालों को कई तरह से अपने डाइट में शामिल कर सकते हैं।

आप इन्हें भोजन में मसाले के तौर पर यूज कर सकते हैं।

सुबह खाली पेट अजवाइन, मेथी और काला जीरा के बीच को एक मिक्स के तौर पर चबा सकते हैं।

इसके अलावा आप सुबह खाली पेट मेथी, अजवाइन और काला जीरा के पानी का सेवन कर सकते हैं और इस पानी को बनाने के लिए आप सोने से पहले एक गिलास में तीनों को बराबर हिस्से में एक-एक या आधा – आधा चम्मच डालकर रात भर भीगने के लिए छोड़ दें इसे आप सुबह खाली पेट पी सकते हैं।


Latest News