Homeस्वास्थ्यस्ट्रेस और एंग्जाइटी से छुटकारा पाने के लिए रोजाना सेवन करें ये...

स्ट्रेस और एंग्जाइटी से छुटकारा पाने के लिए रोजाना सेवन करें ये चीजें, दूर हो जाएगी सभी मेंटल प्रॉब्लम

नई दिल्ली – ज्यादातर भारतीय घरों में किशमिश का उपयोग मीठे व्यंजन बनाने के लिए किया जाता है, या फिर हलवा या लड्डू के स्वाद को बढ़ाने के लिए किशमिश का उपयोग किया जाता है, आपको बता दें कि यह खाने के स्वाद को बढ़ाने के साथ-साथ हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभदायक मानी गई है।

किशमिश में मौजूद आयरन, विटामिन, प्रोटीन और फाइबर हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं किशमिश के छोटे-छोटे दानों में पोटेशियम, कॉपर, विटामिन बी, सी, कैल्शियम पाया जाता है अगर आप इसका सेवन शहद के साथ ऐसे करते हैं तो आपको इसका 4 गुना अधिक फायदा मिलेगा। शहद में मौजूद स्वास्थ्य गुण जब किशमिश के स्वास्थ्य गुणों के साथ मिलता है तो आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन को बढ़ावा मिलता है, जो कि महिला एवं पुरुषों के शारीरिक दुर्बलता को दूर करती है। ऐसे में आज हम आपको किशमिश और शहद के सेवन के बारे में बताएंगे –

ये भी पढ़ें- एक चार्ज में 3 महीने तक चलेगा ये Smartphone, पटकने पर भी नहीं टूटेगा, जानिए मदहोश करने वाले फीचर

इसे भी पढ़ेंः भारत में जल्द लॉन्च होने जा रही गदर बाइक, जानिए कीमत और फीचर्स

कैसे बनाएं शहद और किशमिश का मिश्रण

एक कटोरी में थोड़ी सी किशमिश डालकर रखें, अब एक कटोरी में शहर डालें और इसमें शहद और किशमिश दोनों की मात्रा इतनी होगी कि शहद में जाने के बाद किशमिश पूरी तरह डूब जाए। आधा घंटे तक शहद में भीगने दें फिर किशमिशऔर शहद को किसी कांच के बर्तन में स्टोर करें। आपका किशमिश और शहद का मिश्रण तैयार हो चुका है, इसे सुबह खाली पेट खा सकते हैं। किशमिश और शहद खाते वक्त ध्यान दें कि इसका सेवन करने के लगभग 1 घंटे तक आपको कुछ भी नहीं खाना है। ज्यादातर 15 दिन में ही इसके सेवन का असर पता चल जाएगा।

किशमिश और शहद खाने के क्या फायदे हैं

एनर्जी बूस्ट करती है रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर शरीर के बीमारियों से बचाती है। स्पर्म काउंट को बढ़ाने में भी मदद करती है।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular