चिकना और तैलीय भोजन अक्सर स्वादिष्ट व्यंजनों की श्रेणी में आता है और कोई भी इसे  खाने से कभी भी मना नहीं कर सकता पर इस भोजन के बाद एक और बड़ी परेशानी है जो हर किसी को सहनी पड़ती है वो है  अपच, भारीपन और गले और पेट में जलन, जो अत्यधिक तेल और मसालों के कारण होता है। चिंता का सवाल यह है कि तैलीय खाना खाने के बाद क्या करें? यह जानकारी कुछ सरल और प्रभावी समाधानों को दर्शाती है जो आपको इस समस्या से राहत दिला सकते है।

 गर्म पानी पिएं

गुनगुने पानी पीने का सुझाव दिया जाता है क्योंकि यह पाचन को तेज करने में मदद करता है और पाचन तंत्र के लिए चिकना भोजन को छोटे और नरम रूपों में तोड़ना आसान बनाता है। यदि आप भारी भोजन के बाद पानी पीना छोड़ देते हैं, तो आपकी आंत भोजन से पानी को अवशोषित कर सकती है और कब्ज पैदा कर सकती है।

 ग्रीन टी

एक और पेय जिसे आप चुन सकते हैं वह है ग्रीन टी। यह फ्लेवोनोइड में समृद्ध है जो एंटीऑक्सिडेंट जोड़ता है जो पाचन तंत्र पर ऑक्सीडेटिव लोड को संतुलित करने में मदद करता है।

 प्रोबायोटिक भोजन

आयुर्वेद के अनुसार खाना खाने के बाद भुने हुए जीरे के साथ दही खाने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। प्रोबायोटिक्स लैक्टोबैसिलस बैक्टीरिया अम्लता को रोकने और उचित मल त्याग को आसान बनाता हैं।

भोजन में फाइबर युक्त भोजन का सेवन करें

भोजन में फाइबर युक्त ओट्स या दलिया का सेवन करने से नुकसान को ठीक करने में मदद मिलेगी, क्योंकि फाइबर सामग्री आंत को साफ करने में मदद करती है। फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ आपको लंबे समय तक भरे रहेंगे और पाचन तंत्र भारी वसायुक्त खाद्य पदार्थों के कारण हुए नुकसान को ठीक कर देगा।

ठंडे भोजन से बचें

आइसक्रीम या पॉप्सिकल्स जैसे ठंडे खाद्य पदार्थ खाना आपकी आंत के लिए अच्छा नहीं हैं। चिकना खाना खाने के तुरंत बाद ठंडा खाना खाने से आंतों, पेट और लीवर पर दबाव बढ़ जाता है और चिकना भोजन आसानी से पचने में मुश्किल हो जाता है।

यहां भी जरूर पढ़े : Old Coins : अगर आपके पास नहीं है कोई जॉब,तो पुराने सिक्कों को बेचकर खड़ा करें करोड़ों का बिजनेस 

यहां भी जरूर पढ़े : Earn Money: 100 रुपये का ये नोट आपको रातों रात बना देगा लखपति

Recent Posts