Times Bull
News in Hindi

आयुष्‍यमान भारत योजना में रहेगी नौकरियों की बहार

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत रोजगार के हजारों अवसर पैदा होंगे
केंद्र की वर्तमान नरेंद्र मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत-राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन (एबी-एनएचपीएम) लागू होने से रोजगार के कम से कम 10 हजार अवसर पैदा होंगे। इसके अलावा भी करीब एक लाख अन्‍य नौकरियां युवाओं को मिलेगी। अमेरिका की ओबामा केयर की तरह भारत में मोदी केयर कही जाने वाली इस योजना को केंद्र सरकार अगले आम चुनाव से पहले देश भर में लागू करने की तैयारी कर रही है। इस योजना का उद्देश्य 10 करोड़ गरीब परिवारों के 50 करोड़ लोगों को प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख रुपये तक की स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा मुहैया कराना है।

एक सरकारी अधिकारी के मुताबिक योजना के तहत निजी और सरकारी दोनों अस्पतालों में एक लाख आयुष्मान मित्रों को तैनात किया जाएगा जो कि स्वास्थ्य केन्द्रों में आने वाले मरीजों को बीमा पैकेज का लाभ उठाने में सहायता प्रदान करेंगे। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक लाख ‘आयुष्मान मित्रों’ की भर्ती के लिए कौशल विकास मंत्रालय के साथ एक समझौता किया है। उक्‍त अधिकारी ने बताया कि सभी सूचीबद्ध अस्पताल में रोगियों की सहायता के लिए ‘आयुष्मान मित्र’ होगा जो लाभार्थियों और अस्पताल के बीच समन्वय करेगा। वे सहायता डेस्क संचालित करेंगे और योजना में पंजीकृत करने एवं पात्रता की पुष्टि के लिए दस्तावेजों की जांच करेंगे।
अधिकारी ने बताया कि योजना के तहत निजी और सरकारी अस्पतालों दोनों में करीब एक लाख आयुष्मान मित्रों को तैनात किया जाएगा। जाहिर है कि केंद्र की ये योजना न सिर्फ देश के स्‍वास्‍थ्‍य परिदृश्‍य को बदल देने वाली है बल्कि रोजगार के मोर्चे पर भी बड़ी लकीर खींचने की तैयारी में है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.