News in Hindi

पुरुषों की हर उस बीमारी की रामबाण दवा है ये चीज

पुरुषों को पावर की ज्यादा जरूरत होती है। उनका शारीरिक श्रम ज्यादा होता है। सफेद मूसली शारीरिक क्षमता बढ़ाने के लिए सदियों से इस्तेमाल होती आई है। पुरुषों को शारीरिक क्षमता और पावर बढ़ाने के लिए सफेद मूसली का सेवन जरूर करना चाहिए।

जड़ी बूटियों से इलाज हमारे देश की परंपरा रही है। यह भी सच है कि जितनी असरदार एलोपैथिक ​दवाईयां नहीं होती, उनसे कहीं जल्दी और ज्यादा असर जड़ी बूटियां दिखाती हैं। ईश्वर ने प्रकृति की रचना ही कुछ इस प्रकार से क थी कि इसमें इंसान के जरूरत की हर चीज शामिल हो। यह जड़ी बूटियां भी प्रकृति की देन हैं और हमारे लिए वरदान हैं। यहां जानें सफेद मूसली खाने के और क्या हैं फायदे हैं —

​ताकत करे बूस्ट

शीघ्रपतन के लिए सफेद मूसली कारगार दवा है। कौंच के बीज, सफेद मूसली और अश्वगंधा के बीच बराबर मात्रा में मिश्री के साथ पीस लें। इस पाउडर को रोजाना सुबह शाम एक एक चम्मच दूध के साथ लें। शीघ्रपतन व वीर्य की कमी जैसी समस्याएं दूर हो जाएंगी।

बढ़ाती है शुक्राणु

सफेद मूसली पुरुषों को शारीरिक रूप से पुष्ट बनाने के अलावा शुक्राणुओं को बढ़ाने का भी काम करती है। कुछ शोध में तो यह भी पाया गया है कि डायबिटीज के बाद आने वाली नपुंसकता में भी सफेद मूसली असरदार है।

एक्साइटमेंट बढ़ाने में मददगार

एक्साइटमेंट बढ़ाने में मूसली काफी मददगार है। इसके लिए कौंच बीज चूर्ण, सफेद मूसली, तालमखाना, अश्वगंधा चूर्ण एक साथ पीसकर 10 ग्राम मात्रा ठंडे दूध के साथ रोज लें।

दवाईयों में इस्तेमाल

सदियों से दवाईयां बनाने में भी सफेद मूसली का इस्तेमाल होता आया है। यह ऐसी जड़ी बूटी है जिससे शरीर की किसी भी प्रकार की शिथिलता का दूर किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल च्वणप्राश में भी किया जाता है।

इसका नहीं है कोई साइड इफैक्ट

सफेद मूसली खाने का कोई साइड इफैक्ट नहीं है। यह पूरी तरह कार्बनिक हर्बल सामग्री से बनता है। इससे उच्च रक्तचाप, रुमेठी गठिया वाले तथा स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के लिए भी इसका सेवन सुरक्षित है।