Times Bull
News in Hindi

आंवला जूस के फायदे | नुकसान | बनाने की विधि

Benefits And Side Effects In Hindi | | आंवला की व्याख्या महर्षि च्वयन के द्वारा की जा सकती है। आंवला का सेवन कर महर्षि का यौवन सराहनीय था। आंवला में मौजूद विटामिन c कई तरह की समस्याओं के लिए बेहतर माना जाता है। आमले का किसी भी तरह से सेवन करने से आपको कई सारे स्वास्थ्य लाभ की प्राप्ति होगी।

अगर आप आंवले के अन्य उत्पाद की जगह आंवले के जूस का सेवन करते हैं तो यह और भी फायदेमंद होगा। जूस बनाते वक्त आंवले के साथ कोई छेड़-छाड़ नहीं की जाती है। जिसकी वजह से इसमें मौजूद पोषक तत्वों में भी किसी तरह का बदलाव नहीं होता है।

तो चलिए जानते है कि आंवले के जूस को कैसे बनाए। साथ ही हम यह भी जानेंगे कि आंवले के सेवन करने से आपको कौन-कौन से फायदे होते हैं और इसे पीते वक्त कौन सी सावधानियाँ रखनी चाहिए।

कैसे बनाए आंवला का जूस

आंवला का जूस बनाने के लिए आपको कुछ सामाग्रियों की आवश्यकता होगी जो कुछ इस तरह से हैं:

आंवला (1000 ग्राम)
एक पाँव चीनी
1 चम्मच काली मिर्च
सोडियम लेक्टेट
बनाने कि विधि :

आमले को अच्छी तरह से धो लें।
अब इसे कूट लें और इसके बीज को अलग कर दें।
अब इसके गूदे को अच्छी तरह से कूट लें।
इसमें पानी डाल कर इसका अच्छी तरह से पेस्ट बना लें।
इस पेस्ट को अच्छी तरह से छान लें।
बच्चे हुए सिट्ठी में आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर छान लें और पेस्ट में मिला लें।
इस पेस्ट को किसी बर्तन में डाल लें और पेस्ट में शक्कर और काली मिर्च मिला लें।
अब 8-10 मिनट तक जूस को बढ़िया उबालें।
अब जूस में लेक्टेट सोडियम को मिलाकर जूस को बोतल में रख दें।
आपका जूस तैयार है, अब आप इसे इस्तेमाल कर सकते हैं।
यदि आप आंवले का जूस औषधि के लिए बना रहे हैं तो इस तरह बनाएं –

आमले को अच्छी तरह से धो लें।
धुले हुए आमले को कूट ले और उसके बीज को निकालकर गूझे का पेस्ट बना लें।
अब पेस्ट को छान लें। अब इसमें पानी मिलाकर इसका जूस बना लें।
जूस में स्वादानुसार नमक मिला लें और रोज सुबह व शाम जूस पियें।

आंवला के जूस से होते हैं ये फायदे

आँखों कि बीमारी के लिए- आंवला का जूस देखने की शक्ति को बढाता है। मोतियाबिंद, नाईट ब्लाइंडनेस, और कई आँखों से सम्बंधित बिमारियों में आंवले का सेवन करना लाभदायक हो सकता है।

पाचन ठीक करता है- आँवला पाचन से संबधित विकारों को दूर करने में योग्य है। आंवले से बने आहार भोजन को जल्दी पचाते हैं इसके अलावा यह कब्ज कि समस्या भी दूर करता है। रोज आंवले का सेवन करने से गैस की समस्या जड़ से खत्म हो जाती है।

मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है- मेटाबोलिज्म का ज्यादा होना हमारे लिए बहुत अच्छा होता है। यह शरीर को सभी विकारों से दूर रखता है। आँवला मेटाबोलिज्म बढ़ाता है जिससे हमें बहुत बिमारियों से छुटकारा मिल जाता है।

इन्फेक्शन से बचाता है – शरीर में कई तरह के इन्फेक्शन हमारे त्वचा और कई आंतरिक अंगों को प्रभावित करते हैं। आमले के जूस का सेवन करने से रक्त में मौजूद अशुद्धि को दूर किया जा सकता है। खून में गंदगी को साफ़ करने के चलते आप कई तरह के इन्फेक्शन से दूरी बना सकते हैं। यह आपके चेहरे में होने वाले पिम्पल्स आदि से बचाता है।

डायबिटीज से दिलाता है छुटकारा – आंवला में एक प्रकार का तत्व मौजूद होता है जो शरीर की डायबिटीज से रक्षा करता है। आमले में पाया जाने वाला क्रोमियम नमक तत्व शरीर में इंसुलिन लेवल को मेन्टेन करता है और शरीर में अगर इन्सुलिन का प्रवाह सही ढंग से नहीं हो रहा है तो उसे ठीक करता है। इसके लिए आप रोज सुबह आमले का जूस पी सकते हैं।

महावारी के दौरान का दर्द – अगर आमले के जूस को महिलाएँ नियमित रूप से पीती हैं तो पीरियड्स के दौरान होने वाले असहनीय दर्द को दूर किया जा सकता है। इसमें मौजूद क्रोमियम नामक तत्व पेट में दर्द से रिलीफ दिलाने के लिले बेहद कारगर होता है| इसे और भी कारगर बनाने के लिए आप इसमें स्वादानुसार काला नमक मिला लें।

पुरुषों के आतंरिक रोग – पुरुषों में गुप्त समस्या जैसे वीर्य में शुक्राणुओं की कमी आदि को आमले के जूस के मदद से दूर किया जा सकता है। आमले के जूस से पुरुषों और महिलाओं दोनों में ही प्रजनन क्षमता का विकास आसानी से किया जा सकता है।

दिमाग तेज करता है – आमले का जूस पीने से तनाव को खतम किया जा सकता है। दिमाग तनाव से मुक्त होने के चलते अच्छी तरह से कार्य करता है। यही वजह से है कि आंवला के जूस को पीने से दिमाग में कई तरह के दोष जैसे कि- भूल जाना इत्यादि को दूर किया जा सकता है।

बवासीर – बवासीर की गंभीर समस्या से परेशान लोग आमले के जूस को नियमित रूप से इस्तेमाल कर के बवासीर से बच सकते हैं। गुदा द्वार से आने वाली माबद आदि को आमले का जूस पीकर सही किया जा सकता है। इसका अच्छी तरह से लाभ पाने के लिए आप इसमें एक चुटकी पीसा और भूना हुआ काला जीरा मिला लें। इस मिश्रण के सेवन करने से बवासीर को ठीक किया जा सकता है।

वजन कम करता है – आमले में कई ऐसे तत्व शामिल हैं जिनका शरीर में रिएक्शन से वजन कम हो जाता है। इसके लिए अप रोज सुबह आधा गिलास आंवला का जूस पियें। एक महीने के इस्तेमाल से ही आपको फर्क नजर आ जाएगा। आप एक महीने में लगभग 3 किलो वजन को कम कर सकते हैं।

जूस पीते वक्त की कुछ सावधानियाँ:

कफ की समस्या से परेशान व्यक्ति आंवला के जूस का सेवन न करे।
सर्दियों के दौरान आमले के जूस का सेवन न करें।
गले में खराश के दौरान इसका सेवन न करें।
गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।
इसके ज्यादा सेवन से हाइपरएसिड ट्री की समस्या हो सकती है।
इसके नियमित खुराक के लिए एक बार डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Related posts

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...