Times Bull
News in Hindi

चीन की सेहत सुधारने को आफत में पड़े अफ्रीका के गधे

जिलेटिन गधे की खाल से बनता है और इसका इस्तेमाल स्वास्थ्य क्षेत्र में होता है
सुनने में अजीब लग सकता है मगर ये बिलकुल सच है। चीन के लोगों की सेहत सुधारने के लिए अफ्रीका के गधों की जान सांसत में पड़ गई और वहां से गधे चोरी किए जा रहे हैं। दरअसल चीन में जिलेटिन की मांग लगातार बढ़ रही है। इसी वजह से अफ्रीकी देशों से काला बाजारी के जरिये गधों की खाल को चीन भेजा जा रहा है।

हालांकि इसका असर अब अफ्रीका के लोगों पर पड़ने लगा है। गधों की चोरी के कारण अफ्रीका के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है क्‍योंकि यहां की बड़ी आबादी कृषि कार्यों और भारी सामानों की ढुलाई के लिए गधों पर निर्भर है। हाल ही में नैरोबी में जोसेफ कामोनजो कारियूकी के तीन गधे लापता हो गए थे और बाद में इन सब के अवशेष बरामद हुए। केन्या से लेकर बुरकिना फासो, मिस्र से लेकर नाइजीरिया तक के पशु अधिकार समूहों का कहना है कि गधे के खाल की कालाबाजारी करने वाले चीन में जिलेटिन की मांग को पूरा करने के लिए गधों को मारकर उनकी खाल निकालते हैं। जिलेटिन गधे की खाल से बनता है और इसका इस्तेमाल स्वास्थ्य क्षेत्र में होता है। पशु अधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि चीन में गधों की संख्या में कमी आने से अब इसकी आपूर्ति अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका से हो रही है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.