Times Bull
News in Hindi

अगर आपको भी नजर आ रहे हैं यह लक्षण तो हो सकता है प्रोस्टेट कैंसर

कैंसर के नाम से ही लोग डरते हैं, लेकिन असल बात तो यह है कि अगर समय रहते इस बीमारी का पता चल जाए तो इसका इलाज संभव है। प्रोस्टेट कैंसर पुरूषों की प्रोस्टेट ग्रंथि में होता है। प्रोस्टे्ट कैंसर की पहचान यदि शुरू में ही कर ली जाए तो इस पर आसानी नियंत्रित किया जा सकता है। यह कैंसर वैसे तो 65 की उम्र के बाद होता है, लेकिन यदि युवावस्था  से ही हम इसके बारे में अवेयर हों तो इससे होने वाले खतरे को टाला जा सकता है। मेदांता द मेडिसिटी हॉ‍स्पिटल, नई दिल्ली  के ऐकेडेमिक एंड रिसर्च डिवीजन यूरोलॉजी के चेयरमैन डॉ एन पी गुप्ता के अनुसार प्रोस्टेट कैंसर और इसके पांच उपाय ये हैं-
aaeaaqaaaaaaaazvaaaajdbhnmi3otgwltq5ztmtngu3zc1hztmwltk3zteyywy1mtving
पुरूषों में होने वाले इस कैंसर को इन पांच संकेतों से पहचानिए
– यूरिन के दौरान जलन होना प्रोस्टेंट कैंसर का संकेत हो सकता है
– यूरिन को नियंत्रित करने में परेशानी होना या थोड़े थोड़े समय में यूरिन आना प्रोस्टेट कैंसर होने का सूचक है
– लगातार हड्डियों में दर्द रहना भी प्रोस्टेट कैंसर होने का सूचक है
– यूरिन में ब्लोड आना भी प्रोस्टे्ट कैंसर का सूचक है
ऐसे करें प्रोस्टेलट कैंसर से बचाव, जानिए
Gewürze
Gewürze
अपनी डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियां अधिक से अधिक शामिल करें। चूंकि इनमें भरपूर मात्रा में विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं जो प्रोस्टेट कैंसर होने से बचाते हैं।
– स्मोकिंग और तम्बाकू शरीर में टॉक्सिन्सक की मात्रा को बढ़ाते है, जो प्रोस्टेट कैंसर का कारण साबित होते हैं। इन्हें ‘ना’ कहना ही बेहतर है।
– मटन बीफ या अन्य हाई फैट वाले मांस से बॉडी फैट बढ़ता है। इससे प्रोस्टेेट कैंसर होने का खतरा काफी बढ़ता है। इन्हें  डाइट में कम ही शामिल करें।
– वजन ज्यादा होने के कारण भी प्रोस्टेट कैंसर का खतरा बढ़ता है अत: वजन कम करने के लिए रोजाना 30 मिनट की मॉर्निंग वॉक का एक्सारसाइज जरूर करें।
– जंक फूड और ऑयली फूड से बॉडी का फैट तो बढ़ता ही है साथ ही यह प्रोस्टेट कैंसर का खतरा बढ़ाते हैं। इनके स्थारन पर उपमा, दलिया और ओट्स जैसे हैल्दीे फूड खाएं।
– कोई भी दो फ्रूट नियमित खाएं। इनमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट्स एवं मिनरल्सट प्रोस्टेबट ग्रंथि को बढ़ने से रोकते हैं।
– टमाटर में मौजूद एंटी ऑक्सीुडेंट लाइकोपीन से भी पुरूषों में प्रोस्टेटट कैंसर की आशंका कम हो जाती है। साथ ही दिल भी दुरूस्त रहता है।

This is a close-up of vegetables and fruits.

– ब्रोकली में कैल्शि‍यम, फाइबर और विटामिन सी काफी मात्रा में होते हैं, इससे पुरूषों की इम्यूल‍निटी बढ़ती हैं और हड्डियां मजबूत होती हैं। इसमें पाया जाने वाला सल्फो राफैन प्रोस्टेट को हैल्दी रखता में कारगर साबित होता हैं।
– सप्तााह में 3 बादाम जरूर खाने चाहिए। इनसे प्रोटीन, फाइबर और विटामिन ई की मात्रा मिलती है। डाइजेशन भी सुधरेगा एवं स्किन और हार्ट भी इससे हैल्दी रहेगे।
– अंडे में मौजूद अमीनों एसिड से मेमोरी बढ़ती है। इसे खाने से मेटाबोलिज्म में भी वृद्धि होती होती है, जिससे वजन नियंत्रित रहता है।
– पर्याप्तम मात्रा में डेयरी प्रोडक्ट नहीं लेने पर भी शरीर में फैट जमा होने लगता है। रोजाना एक गिलास दूध पीने से वजन नियं‍त्रण में रहेगा।
– दही में भरपूर कैल्शियम होता है, इससे हड्डियां मजबूत होती हैं। दही खाने के बाद देर तक भूख नहीं लगने से भी वजन नियंत्रण में रहता है।
– फिश ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर स्रोत है जो याददाश्त् बढ़ाता है और हार्ट को भी हैल्दी  रखने में मदद करती है।
– ग्रीन टी में मौजूद कैटचिन्स एंटी ऑक्सीडेंट्स कैंसर का खतरा टालते हैं। साथ ही इम्यूनिटी बढ़ाने और धूप से स्किन डेमेज को ठीक करने में मदद भी करते हैं।
– होल ग्रेन में मौजूद एंटीऑक्सीसडेंट्स से इन्सुलिन नियंत्रण में रहता है। इससे डायबिटीज का खतरा कम और वजन भी नियमित रहता है।
– अलसी में ओमेगा 3 फैटी एसिड्स, प्रोटीन और फाइबर होते हैं, जो त्वचा के धब्बों और झुर्रियों को कम करते हैं। अलसी कैलोस्ट्रोरल कम कर हार्ट को भी हैल्दी रखती है।

Related posts

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.