एक अप्रैल से पेट्रोल की बढ़ेगी कीमतें, जानिए क्यों

Petrol prices will increase from April 1, know why

एक अप्रैल से पेट्रोल की कीमतों में उछाल देखा जा सकता है, ऐसा इसलिए क्योकि अप्रैल के महीने में कम कार्बन उत्सर्जन वाले बीएस-6 मानकों के अनुकूल ईंधन की आपूर्ति की जाएगी। वही तेल कंपनियों ने इस क्षेत्र में काफी निवेश किया है  और कंपनियों ने इसके लिए तैयारी भी कर ली है। रिपोर्ट के अनुसार सार्वजनिक क्षेत्र की तेल मार्केटिंग कंपनियों ने अपनी रिफाइनरी को उन्नत बनाने के लिये 35,000 करोड़ रुपये निवेश किया है। मीडिया से बात करते हुए आईओसी (IOC) के चेयरमैन संजीव सिंह ने कहा कि देश की सबसे बड़ी तेल आपूर्तिकर्ता कंपनी ने कम सल्फर वाले डीजल और पेट्रोल के उत्पादन को लेकर अपनी रिफाइनरी को उन्नत बनाने को लेकर 17,000 करोड़ रुपये खर्च किया है।

होलिका दहन के दिन कर लें ये उपाय, बदल जाएगी आप की किस्मत

वही आईओसी का कहना है कि वह कम कार्बन उत्सर्जन वाले बीएस-6 मानकों के अनुकूल ईंधन की आपूर्ति एक अप्रैल से करने को तैयार है। इससे ईंधन के खुदरा दाम में मामूली वृद्धि होगी। इससे पहले भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने कहा था कि उसने इसी कार्य के लिए 7,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है। वही दुसरी ओर हिंदुस्तान पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड (HPCL) ने इस बारे में कुछ भी नहीं बताया है।

Aadhaar का पता बदलना हुआ आसान! mAadhaar APP से मिनटों में फॉलो करें ये स्टेप

दरअसल आप को बता दें कि एक अप्रैल से बीएस 4 वाहन की बिक्री भी नही होगी सरकार ने इससे पहले कंपनी को चेताया है वही ऑटों कंपनियों ने भी बीएस 6 वाहन को लांच करने शुरु कर दिया है। कम कार्बन उत्सर्जन वाले बीएस-6 मानकों के अनुकूल ईंधन की आपूर्ति की जाएगी । बता दें कि बीएस 6 वाहनो से कम कार्बन उत्सर्जन हो सकेगा ।