नई दिल्ली, मशहूर पोशाक डिजाइनर नीता लुल्ला इस साल ऑस्कर पैनल में शामिल होने को लेकर बहुत खुश हैं और उनका कहना है कि यह भूमिका एक बड़ी जिम्मेदारी के साथ आई है। लुल्ला उन 819 कलाकारों और अधिकारियों में से हैं जिन्हें एकेडमी ऑफ मोशन पिक्च र आर्ट्स एंड साइंसेज (एएमपीएएस) में शामिल होने के लिए निमंत्रण मिला है।

लुल्ला ने बताया, “यह जिम्मेदारी अपने साथ सही ढंग से संवाद करने की जिम्मेदारी लाई है। जब आप ऐसी सम्मानित जूरी का हिस्सा होते हैं, तो आपके लिये जरूरी होता है कि आप सही ढंग से संवाद करें। साथ ही आपको इस बात के साथ तालमेल रखने की भी आवश्यकता होती है कि वे नई फिल्मों, शैलियों आदि को आंकने को लेकर क्या बात कर रहे हैं।”

साल 2020 के निमंत्रण में बॉलीवुड सितारों में आलिया भट्ट और ऋतिक रोशन, डॉक्यूमेंट्री डायरेक्टर निष्ठा जैन, लेखिका सबरीना धवन, कास्टिंग डायरेक्टर नंदिनी श्रीकांत और टेस जोसेफ, विजुअल इफेक्ट आर्टिस्ट विशाल आनंद और संदीप कमल और डिजिटल स्ट्रीमिंग कंपनी क्यूब सिनेमा टेक्नोलॉजी के सह-संस्थापक वी. सेंथिल कुमार शामिल हैं।

इस आमंत्रण को स्वीकार किए जाने पर अकादमी ने ऑस्कर पुरस्कार के 93 वें संस्करण में वोट करने का अधिकार भी दिया है।

लुल्ला की पीरियड फिल्मों ‘देवदास’ (2002), ‘जोधा अकबर’ (2008) और ‘मणिकर्णिका’ (2019) को अकादमी ने पहचाना।

लुल्ला ने कहा, ‘मुझे यह जानकर बहुत गर्व महसूस हुआ कि इस बॉडी ने मेरे काम को देखा। वो जानते हैं कि ‘देवदास’ और ‘जोधा अकबर’ फिल्में क्या हैं! यह ऐसा था जैसे वे लोग भारत को देख रहे हैं और यहां हो रहे काम को देख रहे हैं।”