Times Bull
News in Hindi

बड़ा खुलासा: बच्चन परिवार के ऐसे राज खुले कि आप दांतों तले दबा लेंगे उंगली

बच्चन परिवार में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। हाल ही सपा नेता और अमिताभ बच्चन के पुराने करीबी दोस्त रहे अमर सिंह ने बच्चन परिवार के कुछ ऐसे राज खोले हैं कि आप दांतों तले उंगली दबा लेेंगे। इन दिनों अमर सिंह बच्चन परिवार के लिए विभिषण का किरदार निभाते नजर आ रहे हैं।

हाल ही एक निजी चैनल और न्यूजपेपर को दिए इंटरव्यू में अमर सिंह ने बच्चन परिवार को लेकर बड़े खुलासे किए हैं। हाल ही बिग बी ने एक फैमिली फोटो पोस्ट की थी जिसमें से बहु ऐश्वर्या बच्चन नदारद थीं, इसके बाद एक बार फिर दबी जुबान में लोग बातें कर रहे थे, तभी अमर सिंह के इन खुलासों ने सबको चौंका दिया।

अमर सिंह ने बताया कि अमिताभ बच्चन और जया बच्चन अलग अलग घरों में रहते हैं। लोगों ने मुझ पर झूठे आरोप लगाया है कि मैं उनके बीच झगड़ा करवाया, जबकि ऐसा नहीं है। जब मैं उनसे पहली बार मिला था, वे दोनों तब से ही अलग रहते थे। इसके पीछे की वजह बताते हुए अमर सिंह ने कहा कि जया तेज स्वभाव की हैं और वो हरिवंश राय और तेजी बच्चन के साथ बेहद बुरा बरताव करती थीं।

अमिताभ को यह सब अच्छा नहीं लगता था, इसलिए उन्होंने जया के व्यवहार से दुखी होकर अलग रहने का फैसला किया था। अमिताभ दूसरे श्रवण कुमार हैं। अमर सिंह ने कहा कि जब जया ने हरिवंश राय और तेजी जी का अपमान किया तो वे दुखी होकर पहले बांदा गए फिर दिल्ली के गुलमोहर मार्ग के सोपान नाम के घर में रहने लगे।

फिर जब अमिताभ के माता-पिता बीमार पड़े तो वो खुद उनके साथ मुंबई स्थित प्रतीक्षा बंगले में रहने लगे, जबकि पत्नी जया को जलसा नामक दूसरे बंगले में रखा। अमर सिंह ने दावा किया कि आज भी अमिताभ अलग, जया अलग और ऐश व अभिषेक एक साथ अलग घर में रहते हैं। अमर सिंह ने कहा कि मैं अपनी सफाई में कहना चाहता हूं कि मैंने उन्हें अलग नहीं करवाया, वे अपनी फैमिली प्रॉब्लम्स की वजह से अलग रह रहे हैं। दोनों के विवाह में मतभेद हैं या नहीं, इस पर मैं कोई कमेंट नहीं करना चाहता।

अमर सिंह ने कहा कि माता-पिता की मृत्यु के बाद आज भी अमिताभ बच्चन प्रतीक्षा में रह रहे हैं और आज भी वे अपने पिता के कक्ष के रोज दर्शन करते हैं। उनके पिता के कक्ष में उनका चश्मा और उनकी किताबें यथावत रखी हुई हैं, मानों हरिवंश राय अभी अभी उठ कर गए हों।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.