राजस्थान में अब तक शिक्षण संस्थान केवल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित किए जा रहे थे। गृह विभाग ने दिशा-निर्देश जारी कर 15 नवंबर से 100 प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल-कॉलेज खोलने की अनुमति दे दी है, जिसकी जानकारी प्रसार भारती न्यूज़ सर्विस ने सोशल माइक्रोब्लॉगिंग ऐप, कू के माध्यम से दी है।

15 नवंबर से खुलेंगे पूर्ण क्षमता से
राजस्थान सरकार ने यह फैसला प्रदेश में कोरोना के गिरते मामलों को देखते हुए लिया है, जिसके अंतर्गत यूनिवर्सिटी, कॉलेज, स्कूल और कोचिंग संस्थानों में 100 प्रतिशत क्षमता के साथ शैक्षणिक गतिविधियों के संचालन की अनुमति दे दी है। गृह विभाग ने आदेश में कहा है कि कक्षा 1 से 12 तक के स्कूलों, विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में कक्षा की गतिविधियाँ 100 प्रतिशत क्षमता के साथ शुरू की जाएँगी। गृह विभाग के आदेश अनुसार, राज्य के सभी कोचिंग संस्थान भी 15 नवंबर से अपने शैक्षणिक और गैर-शिक्षण कर्मचारियों के लिए कोविड वैक्सीन की दोनों खुराक की अनिवार्य आवश्यकता के साथ 100 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालन कर सकेंगे। बता दें कि राजस्थान में सोमवार को चार कोविड-19 के मामले सामने आए हैं, और अब राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 42 हो गई है।

सरकारी स्कूलों के छात्रों को दिए जाएँगे यूनिफॉर्म के लिए रुपए
राजस्थान सरकार ने स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को यूनिफॉर्म के लिए 600 रुपए देना सुनिश्चित किया है। यह राशि सीधे बच्चों के खातों में ट्रांसफर होगी। राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद ने एक सर्कुलर जारी कर मुख्य जिला शिक्षा अधिकारियों से विद्यार्थियों अथवा उनके परिजनों के बैंक खातों की जानकारी तत्काल मांगी है। यह पैसा 2021-22 के बजट में हुई घोषणा के तहत दिया जा रहा है।

गौरतलब है कि जिले में सरकारी स्कूलों में कक्षा 1 से 5 तक में 87 हजार 223 विद्यार्थियों का और 6 से 8 तक 48 हजार 271 विद्यार्थियों का नामांकन हुआ है। कक्षा 1 से 8 तक 1 लाख 35 हजार 494 विद्यार्थी हैं, जिन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा। इसके अंतर्गत 300 रुपए कपड़े के लिए और 300 रुपए सिलाई के दिए जाएँगे।

Recent Posts

Siddhesh Neema

Writer