22 November 2019 Current Affairs | GK in Hindi | Daily Current Affairs | Current Affairs In Hindi

Advertisement

22 November 2019 Current Affairs | GK in Hindi | Daily Current Affairs | Current Affairs In Hindi Download As PDF

Hindi-GK की Current Affairs प्रश्नावली भारत सरकार की नीतियों, केंद्र औऱ राज्य सरकार की योजनाओं, खेल गतिविधियों, पुरस्कार, दिन विशेष, बैंकिंग, आर्थिक और सार्वजनिक क्षेत्र की इकाईयों के नवीनतम अपडेट उपलब्ध कराती है। ये करंट अफेयर्स और सामान्य ज्ञान जानकारी आईएएस, आरएएस, यूपीएससी, आईबीपीएस और रेलवे भर्ती की तरह अऩ्य प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों और उम्मीदवारों के लिए लाभकारी है।

Current Affairs 2019 in Hindi.

वह राज्य सरकार, जिसके द्वारा विधान परिषद की स्थापना के लिए राज्यसभा में प्रस्ताव लाने का आग्रह किया गया ?
ओडिशा
तेलंगाना
पंजाब
बिहार

हाल ही में ओडिशा सरकार ने केंद्र सरकार से विधानपरिषद की स्थापना के लिये राज्यसभा में एक प्रस्ताव लाने का आग्रह किया है। वर्तमान में छह राज्यों में विधानपरिषद अस्तित्व में हैं, जबकि राजस्थान और असम में विधानपरिषद के गठन के प्रस्ताव संसद में लंबित हैं। संविधान के अनुच्छेद 171 के अनुसार, विधानपरिषद के सदस्यों की कुल संख्या उस राज्य की विधानसभा के सदस्यों की कुल संख्या के एक-तिहाई से अधिक नहीं होगी, किंतु यह सदस्य संख्या 40 से कम नहीं चाहिये।

केंद्रीय अन्वेक्षण/जाँच ब्यूरो द्वारा यौन उत्पीड़न एवं शोषण रोकथाम/जाँच इकाई की स्थापना की गई ?
नई दिल्ली
बेंगलुरु
चंडीगढ़
मुंबई

केंद्रीय अन्वेक्षण/जाँच ब्यूरो ने इंटरनेट पर यौन उत्पीड़न एवं शोषण (Online Child Sexual Abuse and Exploitation-OCSAE) के खतरे से निपटने के लिये नई दिल्ली में अपने विशेष अपराध क्षेत्र के तहत एक ऑनलाइन रोकथाम/जाँच इकाई की स्थापना की है। CBI के नई OCSAE रोकथाम/जाँच इकाई का प्रादेशिक क्षेत्राधिकार पूरे भारत में होगा। नई विशेष इकाई ऑनलाइन बाल यौन उत्पीड़न एवं शोषण जैसे अपराधों से संबंधित सूचनाओं के वितरण, प्रकाशन, प्रसारण, निर्माण, संग्रह, मांग, ब्राउज़िंग, डाउनलोडिंग, विज्ञापन, प्रचार, आदान-प्रदान आदि के संबंध में जानकारी एकत्र करेगी।

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अयोध्या विवाद मामले (Ayodhya verdict) में किस उपासना स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम का उल्लेख किया ?
उपासना स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम -1991
उपासना स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम -1993
उपासना स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम -1995
उपासना स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम -1998

हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या विवाद मामले (Ayodhya verdict) में उपासना स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम, 1991 (Places of Worship (Special Provisions) Act, 1991) का उल्लेख किया, जो स्वतंत्रता के समय मौजूद धार्मिक उपासना स्थलों को बदलने (Conversion of Religious Places) पर रोक लगाता है। यह अधिनियम बाबरी मस्ज़िद (वर्ष 1992) के विध्वंस से एक वर्ष पहले सितंबर 1991 में पारित किया गया था।

विश्व स्मारक कोष द्वारा विश्व स्मारक निगरानी सूची-2020 में शामिल प्राचीन भूमिगत जल प्रणाली “सुरंगा बावड़ी ” किस राज्य में स्थित है ?
कर्नाटक
उड़ीसा
महाराष्ट्र
केरल

न्यूयार्क स्थित गैर सरकारी संगठन विश्व स्मारक कोष (World Monuments Fund-WMF) ने प्राचीन भूमिगत जल प्रणाली सुरंगा बावड़ी (Suranga Bawadi) को विश्व स्मारक निगरानी सूची-2020 में शामिल किया है। सुरंगा बावड़ी कर्नाटक के विजयपुरा में स्थित है। सुरंगा बावड़ी प्राचीन कारेज़ प्रणाली पर आधारित है। इस बावड़ी का निर्माण 16वीं शताब्दी में आदिल शाह प्रथम ने शहर को जलापूर्ति हेतु किया था।

वह प्रौद्योगिकी कंपनी, जिसके द्वारा संगणना (Computing) के क्षेत्र में “क्वांटम सुप्रीमेसी ” उपलब्धि हासिल की गई ?
गूगल
अमेजॉन
फेसबुक
ओरेकल

हाल ही में गूगल ने घोषणा की है, कि उसने संगणना (Computing) के क्षेत्र में “क्वांटम सुप्रीमेसी (Quantum Supremacy) ” उपलब्धि हासिल की। इस शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग कैलिफ़ोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी के प्रोफेसर जॉन प्रेस्किल द्वारा 2012 में किया गया था। उनके अनुसार क्वांटम कंप्यूटर किसी भी ऐसी गणना को कर सकता है, जिसे आधुनिक सुपर कंप्यूटर करने में सक्षम नहीं है।

भारत का सर्वाधिक उन्नत इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम स्थापित किया गया ?
उत्तर मध्य रेलवे
पूर्वोत्तर रेलवे
दक्षिण मध्य रेलवे
पश्चिम मध्य रेलवे

भारत का सर्वाधिक उन्‍नत इलेक्‍ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्‍टम को ग्रैंड कॉर्ड मार्ग पर लगाया गया है। भारतीय रेलवे को विभिन्‍न ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने तथा दिल्‍ली और हावड़ा के बीच सफर में लगने वाले समय को मौजूदा 17-19 घंटे से कम करके करीब 12 घंटे ही कर देने की उम्मीद है। टुंडला जंक्‍शन की ट्रेन संचालन क्षमता मौजूदा अधिकतम 200 ट्रेनों से बढ़कर 250 ट्रेनें प्रतिदिन हो गई हैं।

वह प्रौद्योगिकी संस्थान, जिसके द्वारा अर्द्ध-डाइरेक (Semi-Dirac) नामक विशेष वर्ग के धातु में विशिष्ट गुणों का पता लगाया गया?
IIT मुंबई
IIT दिल्ली
IIT मद्रास
IIT हैदराबाद

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान बॉम्बे के शोधकर्त्ताओं ने अर्द्ध-डाइरेक (Semi-Dirac) (उदाहरण: टाइटेनियम ऑक्साइड) नामक विशेष वर्ग के धातु में विशिष्ट गुणों का पता लगाया है। सोना एवं चाँदी जैसी धातुएँ विद्युत की सुचालक होती हैं तथा इनकी सुचालकता व ऊर्जा इलेक्ट्रॉनों की गति पर निर्भर करती है। इसके विपरीत डाइरेक धातु सामान्य धातुओं की तुलना में भिन्न होती हैं व इसमें ऊर्जा का स्थानांतरण रैखिक गति द्वारा होता है।

वह मंत्रालय, जिसके अधीन “सशस्त्र गंगा प्रोटेक्शन कोर ” की स्थापना प्रस्तावित है ?
गृह मंत्रालय
जल संसाधन मंत्रालय
जल शक्ति मंत्रालय
उपरोक्त सभी

केंद्र सरकार द्वारा पारित राष्ट्रीय नदी गंगा (पुनरुद्धार, संरक्षण तथा प्रबंधन) विधेयक 2018 के तहत गंगा में तटबंधों, बंदरगाहों तथा स्थायी हाइड्रोलिक संरचना के निर्माण पर पाबंदी रहेगी। इसके अतिरिक्त गृह मंत्रालय के अंतर्गत एक सशस्त्र गंगा प्रोटेक्शन कोर (GPC) की स्थापना की जाएगी तथा उन्हें गंगा रीजुवनेशन अथॉरिटी द्वारा तैनात किया जाएगा। GPC को अधिकार होगा कि जो भी नदी को प्रदूषित करे या वाणिज्यिक मत्स्यपालन हेतु नदी के प्रवाह को अवरुद्ध करे उसे गिरफ्तार किया जाए।

वह नदी घाटी, जहां कर्नल चेवांग रिनचेन सेतु का उद्घाटन किया गया ?
श्योक नदी
बीन नदी
रावी नदी
सोन नदी

हाल ही में पूर्वी लद्दाख में दुरबुक और दौलत बेग ओल्‍डी को जोड़ने वाले कर्नल चेवांग रिनचेन सेतु (Col Chewang Rinchen bridge) का उद्घाटन किया गया। यह सेतु श्‍योक नदी (River Shyok) पर सीमा सड़क संगठन (Border Roads Organisation- BRO) द्वारा बनाया गया है। काराकोरम और चांग चेनमो पर्वत शृंखलाओं के बीच स्थित कर्नल चेवांग रिनचेन सेतु 400 मीटर लंबा सेतु है, जिसे माइक्रो पाइलिंग टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल करते हुए करीब 15,000 फीट की ऊँचाई पर बनाया गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा “निक्षय पोषण योजना ” का संचालन किया जा रहा है ?
कर्णशूल रोग
तपेदिक रोग
पायोरिया रोग
एरीथेमा रोग

हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने वैश्विक तपेदिक रिपोर्ट- 2019 (Global Tuberculosis Report- 2019) जारी की है। इस रिपोर्ट के अनुसार भारत में पिछले वर्ष तपेदिक के रोगियों की संख्या में 50,000 की कमी आई है। वर्तमान समय में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा “निक्षय पोषण योजना ” के अंतर्गत तपेदिक से प्रभावित रोगियों को प्रत्यक्ष हस्तांतरण योजना के अंतर्गत पोषक आहार के लिये आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है।

Advertisement

Loading...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close