पशुपालकों की हो गई बल्ले-बल्ले! ऐसे बिना गारंटी के फ्री में मिलेगा 10 लाख का लोन, फटाफट जानिए

नई दिल्ली:  देश की आधी से ज्यादा आबादी गांव, कस्बों में रहती है। ऐसे में सरकार भी चाहती है। यहाँ पर रह रहे लोगों के लिए रोजगार मुहैया कराया जाए, जिसके लिए सरकार कई स्कीम्स संचालित कर रही है। वही स्कीम्स का लाभ देने   के लिए सरकार समय समय पर ऐसे समझौते और नए इस स्कीम को लागू करती है।  अगर आप पशुपालक हैं या फिर अपने लिए?पशु को खरीदने के लिए पैसा जुटाना चाहते हैं। आपके लिए अच्छी खबर है।

ये भी पढ़ें- ये एक सिक्का दिला सकता है 10 लाख रुपये, बस करना होगा ये छोटा सा काम

PAK vs ENG: हैदर अली ने लगाया ऐसा धाकड़ शॉट, अंपायर का हुआ बुरा हाल, देखें सामने आया ये वीडियो

दरअसल आप को बता दें कि ग्रामीणों क्षेत्रों की इकॉनमी  को मजबूत करने के लिए पशुपालन अहम भूमिका निभा रहा है। सरकार की योजनाओं का फायदा उठाकर पशुपालक बढ़िया मुनाफा कमा रहे हैं।  दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए ने एमपी स्टेट कोऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन ने  स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के साथ एमओयू साइन किया जिससे   पशुपालक दुधारू पशुओं को खरीदने के लिए 10 लाख तक का लोन ले सकते हैं।

 

ऐसे में बताया जा रहा है कि एमपी स्टेट कोऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन के बैंक के इस समझौते से लोगों को बंपर लाभ मिलने वाला है। इस एमओयू के साइन होने के बाद मध्य प्रदेश में किसान अब दुधारू पशुओं को खरीदने के लिए 10 लाख तक का लोन बिना गारंटी के ले सकते हैं। ऐसे पशुपालक जो नए दुधारु पशु खरीदने हैं इनके के लिए अच्छा अवसर मिलने वाला है।

वही प्रबंध संचालक स्टेट कोऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन तरूण राठी ने बताया कि दुग्ध संघों के कार्यक्षेत्र की समितियों के सदस्यों को 2, 4, 6 और 8 दुधारू पशु खरीदनें के लिये प्रदेश के प्रत्येक जिले में चयनित 3 से 4 बैंक शाखाओं द्वारा लोन उपलब्ध कराया जाएगा।

वही तरूण राठी ने आगे बताय कि लाभार्थी को इसके लिए मार्जिन मनी के रूप में 10 प्रतिशत राशि जमा करनी होगी। दस लाख रूपये तक का मुद्रा लोन बिना कोलेस्ट्रल एवं एक लाख 60 हजार रूपये का नॉन मुद्रा लोन बिना कोलेस्ट्रल किसानों को उपलब्ध कराया जाएगा। किसानों को यह लोन वापस 36 किश्तों में जमा करना होगा। Live TV