Ration Card: राशन कार्डधारकों की खुशी का नहीं ठिकाना, सरकार ने जारी किया ऐसा आदेश कि उछल पड़े गरीब

नई दिल्लीः केंद्र व राज्य सरकारों की तरफ से अब राशन कार्डधारकों के लिए तमाम सुविधाओं को लाभ दिया जा रहा है। अगर आप गरीबी श्रेणी में आते हैं और राशनकार्ड बना हुआ तो फिर यह खबर बहुत की कीमती साबित होने वाली है। उत्तर प्रदेश सरकार ने राशन उपभोक्ताओं के लिए जो प्रक्रिया आरंभ की थी, फिलहाल उसे पूरी तरह से रोक दिया है।

सरकार ने अब एक ऐसा नियम जारी जारी किया, जिससे आपको आराम से मुफ्त गेंहू और चावल का फायदा मिलता रहेगा। सरकार ने राशन कार्डधारकों के लिए हर हाल में ई-केवाईसी कराने का आदेश जारी किया था, जिस पर अब पूरी तरह से रोक लगा दी है। ई-केवाईसी नहीं होने के चलते राशन विक्रेता खाद्यान्न का वितरण नहीं कर पा रहे थे, जिससे ग्राहकों को सुविधा से वंचित रहना पड़ रहा था। इसके साथ ही अब ई-केवाईसी प्रक्रिया ऑनलाइन तरीके से कराई जाएगी, जिससे किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी।

शासन ने लिया बड़ा फैसला

यूपी सरकार ने सभी राशन कार्डधारकों के लिए सत्यापान के साथ-साथ ई-केववाईसी कराने का निर्देश दिया गया था। राशन कार्ड से जुड़े प्रत्येक ग्राहक को कोटे की दुकान पर जाकर ई-पॉश मशीन पर अंगूठा लगाना जरूरी कर रखा था। इतना ही नहीं ई-केवाईसी नहीं कराने वाले ग्राहकों को राशन वितरण का लाभ नहीं मिल पा रहा था।

इससे राशन वितरण प्रणाली भी प्रभावित होने लगी। इसके साथ ही निर्धारित तारीख तक 50 प्रतिशत उपभोक्ताओं को भी खाद्यान्न वितरित नहीं किया जा रहा था। राशन की सुविधा से वंचित होते देख सरकार ने अगले आदेश तक ई-केवाईसी कराने पर रोक लगा दी है।

यहां से कराई जा सकती ई-केवाईसी

खाद्य आपूर्ति विभाग के अफसरों के मुताबिक, ई-केवाईसी प्रक्रिया ऑनलाइन कराने की प्रक्रिया पर काम चल रहा है। जल्द ही ई-केवाईसी का अधिकार जन सुविधा केंद्रों को दिए जाने की उम्मीद है। इसके बाद राशन दुकानदारों को वितरण करने में किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी। जिला आपूर्ति कार्यालय के एआरओ पंकज सिंह के अनुसार, राशन कार्ड ग्राहकों की ई-केवाईसी फिलहाल शासन स्तर से स्थिगत करने का फैसला लिया है। अग्रिम आदेश तक ई-केवाईसी की प्रक्रिया पर पूरी तरह रोक रहेगी।