नई दिल्लीः मोदी सरकार इन दिनों किसानों के लिए खजाने का पिटारा खोले हुए है, जिसे लेकर लोगों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। सरकार किसानों को अब हर महीना 3,000 रुपये पेंशन का लाभ दे रही है, जिसके लिए कुछ शर्तें तय की गई हैं। सबसे पहले तो आपका नाम पीएम किसान सम्मान निधि योजना से जुड़ा होना जरूरी है।

इस योजना से जुड़े लोगों के लिए सरकार ने नई स्कीम का आरंभ कर दिया है सरकार ने पीएम किसान मानधन योजना का आरंभ कर दिया है, जिसके लिए कुछ शर्तें रखी गई हैं। सबसे पहले तो सरकार साथ ही लाभार्थी की न्यूनतम उम्र 60 साल होना जरूरी है। अगर आप इन सभी शर्तों को पूरा करते हैं तो फिर यह खबर आपके लिए बड़े ही काम साबित होगी।

  • योजना से जुड़े रहने के लिए जरूरी शर्ते

मोदी सरकार ने किसानों के लिए पीएम किसान मानधन योजना की शुरुआत की है, जिसके लिए कुछ शर्तें तय की हैं। अगर आप इन सभी शर्तों का पालन करते हैं तो फिर आपकी मौज है। सबसे पहले तो आपका नाम पीएम किसान सम्मान निधि योजना से लिंक होना जरूरी है, जिसके लिए प्रत्येक लाभार्थी की उम्र 60 साल होनी चाहिए। इस योजना का लाभ लघु सीमांत किसानों को ही मिल सकेगा। लघु सीमांत किसानों के पास 2 हेक्टेयर तक की खेती करने योग्य भूमि होना जरूरी है। योजना से जुड़ने के लिए किसान की उम्र 18 से 40 वर्ष के होना जरूरी है। किसानों की आय हर महीने 15,000 रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

  • 55 से 200 रुपये तक का करें निवेश

पीएम किसान मानधन योजना से जुड़ने के लिए आपको कुछ निवेश करना पड़ेगा। 60 वर्ष की आयु तक पहुंचने तक किसान को हर महीने 55 से 200 रुपये का निवेश करना होगा। 60 साल की आयु पूरी करने के बाद किसान किस्त लेने का दावा पेश कर सकता है।

PMKSN: इंतजार खत्म! किसानों के अकाउंट में इस दिन आएंगे किस्त के पैसे

  • यूं करें आवेदन

आवेदन करने के लिए आपको नीचे क्रमश जानकारी दी गई है, जिसका पालन करना जरूरी होगा।

पास के कॉमन सर्विस सेंटर पर जरूर जाएं।
नामांकन प्रक्रिया को आधार कार्ड, बैंक पासबुक,चेक या बैंक स्टेटमेंट लाना होगा।
नामांकन करते समय जो पैसा ग्राम स्तरीय उद्यमी (वीएलई) दिया जाएगा।
वीएलई आधार संख्या, किसान का नाम और जन्म तिथि को वेरिफिकेशन करना होगा।
वीएलई बैंक खाता विवरण, मोबाइल नंबर, ईमेल और अन्य पारिवारिक जानकारियां ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को पूरा करेगा।
ऑटोमैटिक सिस्टम लाभार्थी की आयु के मुताबिक, इस बात की गिनती करेगी कि कितनी बार पेंशन देता है।
एक यूनीक किसान पेंशन खाता संख्या जनरेट होगी। किसान कार्ड प्रिंट हो जाएगा।


Latest News