नई दिल्लीः मोदी सरकार अब जल्द ही केंद्रीय कर्मचारियों व पेंशनभोगियों के लिए खजाने का पिटारा खोलने जा रही है, जिससे लेकर लोगों में अभी से काफी चर्चा चल रही है। माना जा रहा है कि सरकार दीवाली से पहले कार्यरत कर्मचारियों की रिटायरमेंट आयु सीमा और पेंशनभोगियों की राशि में बढ़ोतरी कर सकती है, जिसकी चर्चा जोरों से चल रही है। अगर ऐसा होता है तो करीब सवा करीब लोगों को फायदा होने जा रही है। कुछ दिन पहले पीएम की आर्थिक सलाहकार समिति ने यह सुझाव भेजा था, जिसपर अब विचार चल रहा है। अगर ऐसा होता है तो सरकार का यह बड़ा फैसला माना जाएगा। केंद्र सरकार ने अभी ऐसा कोई ऐलान आधिकारिक तौर पर तो नहीं किया है, लेकिन मीडिया की खबरों में यह दावा किया जा रहा है।

जानकारी के लिए आपको बता दें की इस सुझाव के तहत कहा गया है कि कर्मचारियों को प्रत्येक माह 2,000 रुपये की पेंशन दी जानी चाहिए। इस प्रकार से समिति ने वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा के लिए सिफारिश की है।

  • आयु सीमा बढ़ाने का प्रस्ताव

रिपोर्ट में बताया गया है कि केंद्र तथा राज्यों को ऐसी नीतिया बनानी चाहिए, जिससे कौशल का विकास हो सके। इसके लिए असंगठित क्षेत्र, दूरदराज के इलाकों में रहने वाले, रिफ्यूजी, प्रवासियों को भी शामिल किया जाना चाहिए।

  • 2050 से इतने करोड़ हो जाएंगे सीनियर सिटीजन

बता दें की वर्ल्ड पॉपुलेशन प्रोस्पेक्टस 2019 के मुताबिक, साल 2050 तक 32 करोड़ सीनियर सिटीजन हमारे देश में हो जाएंगे। उस समय आबादी का करीब 19.5 प्रतिशत व्यक्ति सेवानिवृत्त की कैटेगरी में पहुंच जाएंगे। वर्ष 2019 में देश की आबादी की 10 फीसदी यानि 14 करोड़ के करीब लोग सीनियर सिटीजन की कैटिगरी में हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि केंद्र सरकार अब जल्द ही महंगाई भत्ता बढ़ाने का ऐलान करने वाली है, जिससे कर्मचारियों की सैलरी में बंपर बढ़ोतरी होने की उम्मीद है।


Latest News