कर्मचारियों के लिए आई अच्छी खबर, DA में 9 फीसदी बड़ा, 3 महीने का एरियर मिलेगा, देखें डिटेल

Web Desk
Employees DA Hike
Employees DA Hike
अभी जॉइन करें Telegram ग्रुप

नई दिल्ली: Employees DA Hike: सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर निकलकर सामने आ रही है। दरअसल कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में इजाफा किया गया है। इसे लेकर आदेश भी जारी किया जा चुका है। नए आदेश के अनुसार, अब कर्मचारियों को DA में 9 फीसदी इजाफा का लाभ मिलेगा। महंगाई भत्ते में यह इजाफा 1 जनवरी 2023 से प्रभावी किया गया है।

Advertisement

इसे भी पढ़ें- अगर ये 100 रुपये का नोट पास में हो, तो आपको करोड़पति बनने में नहीं लगेगी देर

अभी जॉइन करें Telegram ग्रुप

डाकघर की इस शानदार योजना का लाभ उठाए, ₹12,500 जमा करने पर मिलेंगे ₹1 करोड़ 3 लाख, जानिए पूरी डिटेल

लड़का हो या लड़की सभी को दीवाना बना रहा है Yamaha का ये धांसू स्कूटर, कम कीमत में मिलते हैं धाकड़ फीचर्स

आदेश हुआ जारी

Advertisement

आपको बता दें कि वित्त मंत्रालय ने आदेश जारी किया है। जारी आदेश के मुताबिक, सीपीएसई के सीडीए पैटर्न कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते में इजाफा किया गया है। यह वृद्धि जनवरी 2023 से प्रभावी हो गई है। वहीं महंगाई भत्ते को 9 फीसदी बढ़ाया गया है।

9 फीसद की दर से बढ़ाया गया है महंगाई भत्ता

आदेश के अनुसार, कर्मचारियों को मिलने वाला डीए (DA) 1 जनवरी 2023 से 212 फीसदी से बढ़ाकर 221 फीसदी कर दिया गया है। वहीं छठे वेतन आयोग के अनुसार, कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 9 फीसद की दर से बढ़ाया गया है। इसी के साथ सैलरी को लेकर भी कुछ निर्देश दिए गए हैं। आदेश के अनुसार, कर्मचारियों को दिया जाने वाला डीए (DA) 01.01.2023 से 212 फीसदी से 221 फीसदी बढ़ा दिया गया है।

वहीं 50 पैसे और उससे अधिक के अंश वाले महंगाई भत्ते के भुगतान को अगले उच्चतर रुपये में पूर्णाकिंत किया जा सकता है और 50 पैसे से कम के अंशों की उपेक्षा की जा सकती है। वहीं ये दरें सीडीए कर्मचारियों के मामले में लागू हैं, जिनका वेतन डीपीई के कार्यालय ज्ञापन दिनांक 14.10.2008 के अनुसार 01.01.2006 से संशोधित किया गया है।

इसे भी पढ़ें- IPL 2023: रिंकू सिंह ने विराट कोहली के कदम चूम लिया आशीर्वाद, फिर हुआ ये सब

नए आदेश में  भारत सरकार के सभी प्रशासनिक मंत्रालयों/विभागों से निवेदन किया गया है। इसे अपने प्रशासनिक नियंत्रणाधीन केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों के ध्यान में लाएं ताकि वे अपनी ओर से आवश्यक कार्रवाई कर सकें।

Share this Article