नई दिल्ली। सरकार हमेशा ही देश के हर वर्ग के लिए नई – नई योजनाएं लेकर आती रहती है, फिर चाहे वो पुरुष हो, महिलाएं हों, वृद्ध हों या किसान हों। सरकार हर किसी के हित के बारे में सोचती है और उनके लिए नई नई योजनाओं का निर्माण करती रहती है। खासतौर से सरकार महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास में जुटी हुई है। ऐसे में सरकार ने महिलाओं की सहायता करते हुए एक योजना का निर्माण किया था। इस योजना का नाम है “प्रधानमंत्री मातृत्व वंदन योजना” ( Matru Vandana Yojana )। इस योजना का मूल उद्देश्य है महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत बनाना और उन्हें कुछ हद तक आत्मनिर्भर बनाना।

इस योजना की शुरुआत सरकार ने वर्ष 2017 में ही कर दी थी। इस योजना को बहुत से लोग प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना के नाम से भी जानते हैं। इस योजना को गर्भवती महिलाओं की मदद के लिए शुरू किया गया था। इस योजना के तहत गर्भवती होने वाली सभी महिलाओं को सरकार की तरफ से 6 हजार रुपए मिलते हैं।

सरकार ने इस योजना की शुरुआत इसलिए की थी ताकि सरकार द्वारा प्रदान की हुई आर्थिक सहायता यानी की इन 6 हज़ार रुपयों से महिला अपने बच्चे का ध्यान रख सके बिना किसी पर भी निर्भर हुए। आपको बता दें कि सरकार द्वारा दी गई यह 6 हज़ार रुपए की धन राशि गर्भवती महिलाओं को किश्तों में मिलती हैं।

यहां भी जरूर पढ़े : Old Coins : अगर आपके पास नहीं है कोई जॉब,तो पुराने सिक्कों को बेचकर खड़ा करें करोड़ों का बिजनेस 

यहां भी जरूर पढ़े : Earn Money: 100 रुपये का ये नोट आपको रातों रात बना देगा लखपति

Recent Posts