नई दिल्लीः मोदी सरकार एक बार फिर केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों के लिए खजाने का पिटारा खोलने जा रही है, जिसे लेकर हर किसी के चेहरे पर काफी रौनक दिखाई दे रही है। अगर आपके घर-परिवार में केंद्रीय कर्मचारी है तो फिर यह खरब आपके लिए बड़े ही काम की साबित होने जा रही है। सरकार केंद्रीय कर्मचारियों को डबल फायदा देने जा रही है, जिसमें पहला तो डीए में बढ़ोतरी फिर फिटमेंट फैक्टर को लेकर बड़ा ऐलान होना संभव माना जा रहा है।

अगर सरकार फिटमेंट फैक्टर को लेकर ऐलान करती है तो फिर सैलरी में रिकॉर्डतोड़ बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। डीए में 4 फीसदी बढ़ोतरी की बात पहले से ही चल रही है, जिसे बढ़कार 38 से 42 प्रतिशत कर दिया जाएगा। सरकार ने अभी आधिकारिक तौर पर तो यह ऐलान नहीं किया है, लेकिन मीडिया की खबरों में यह बड़ा दावा किया जा रहा है।

  • जानिए कितना बढ़ सकता है डीए

कुछ दिन पहले ही मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों के लिए डीए में 4 फीसदी की बढ़ोतरी करने का ऐलान किया था। वर्तमना में अब 38 प्रतिशत डीए मिल रहा है, जिसे बढ़ाकर अब 42 फीसदी करने की बात की जा रही है। अगर ऐसा होता है तो फिर सैलरी में बंपर बढ़ोतरी होना संभव माना जा रहा है।

दूसरी ओर सूत्रों के मुताबिक, अगले साल फिटमेंट फैक्टर पर फैसला लिया जा सकता है, जिसकी चर्चा जोरों से चल रही है। फिलहाल, फिटमेंट फैक्टर के आधार पर न्यूनतम बेसिक सैलरी 18,000 रुपये तय की गई है। फिटमेंट फैक्टर फिलहाल 2.57 गुना है। केंद्रीय कर्मचारियों की मांग थी कि 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत 3.68 गुना बढ़ा दिया जाए।

इससे उनकी बेसिक सैलरी में बड़ा जंप आएगा. 3.68 गुना होने पर न्यूनतम वेतन 26,000 रुपये हो जाएगा। सरकार इसे अब तीन गुना बढ़ाने का ऐलान कर सकती है।

  • इतनी बढ़ेगी सैलरी

उदाहरण के लिए कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपये है, तो मौजूदा वक्त में भत्तों को छोड़कर उसकी सैलरी होगी 18,000 X 2.57= 46,260 रुपये बैठती है। अगर इसे वेतन आयोग की सिफारिशों के अधीन अधिकतम दर पर मान लिया जाए तो 3.68 गुना से सैलरी 26000X3.68= 95,680 रुपये। बेसिक सैलरी 21,000 रुपये तय की जाएगी। कुल सैलरी भत्तों से अलग 21000X3 = 63,000 रुपये होगी।


Latest News

Tagged: