नई दिल्ली,दिल्ली सरकार ने डीजल पर लगने वाले वैट को कम करने का निर्णय लिया है। डीजल पर अभी तक वैट की दर 30 फीसदी थी। अब इसे घटाकर 16.75 प्रतिशत कर दिया गया है। दिल्ली सरकार द्वारा उठाए गए इस कदम के बाद अब दिल्ली में डीजल पहले के मुकाबले काफी सस्ता हो गया है। डीजल की कीमतों में 8 रुपये से अधिक की कमी आएगी। दिल्ली सरकार का मानना है कि डीजल की कीमतों में कमी आने से अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा दिल्ली कैबिनेट ने डीजल पर लगने वाली वैट की दरों को 30 प्रतिशत से घटाकर 16.75 प्रतिशत करने का निर्णय लिया है। इस निर्णय से दिल्ली में डीजल की कीमत घटकर 73.64 रुपये हो जाएगी। डीजल 8.36 रुपये सस्ता होगा।

गौरतलब है कि दिल्ली में डीजल की मौजूदा कीमत पेट्रोल से भी अधिक थी। यही कारण रहा कि दिल्ली में पहली बार लगातार कई दिनों तक डीजल का मूल्य पेट्रोल से अधिक बना रहा। हालांकि गुरुवार को दिल्ली कैबिनेट द्वारा लिए गए निर्णय के बाद अब दिल्ली में डीजल की नई कीमतें लागू कर दी गई हैं जो कि पेट्रोल की कीमतों से काम है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, इस निर्णय से अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी। अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए ही हमने रेहड़ी पटरी के जरिए अपना व्यवसाय करने वाले लोगों को काम करने की मंजूरी दी है। साथ ही रोजगार पोर्टल की भी शुरूआत की गई है।

रोजगार पोर्टल वह व्यवस्था व्यवस्था है जिसके अंतर्गत काम देने वाले और और काम पाने वाले दोनों तरह के व्यक्ति इस पोर्टल पर अपना पंजीकरण करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, अभी तक 7577 कंपनियों ने पंजीकरण कराया है और पोर्टल पर दो लाख, 4784 नौकरियां आई है आई है है। इन नौकरियों के लिए 3 लाख से अधिक लोगों ने आवेदन किया है।

इससे पहले अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करने और दिल्ली में ढ़ाचागत सुविधाएं बढ़ाने के लिए देश की राजधानी दिल्ली में 100 फीट चौड़ी, 500 किलोमीटर लंबी सड़कें यूरोपीय शहरों की तरह खूबसूरत बनाने की शुरूआत की गई थी। पायलट प्रोजेक्ट के तहत दिल्ली की 7 सड़कों के री-डिजाइन करने की योजना मंजूरी दी गई है। इस संबंध में मंगलवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने समीक्षा बैठक भी की है।