News in Hindi

सावधान ! रैनसमवेयर वायरस अटैक रोकना है मुश्किल, यहां जानें इससे बचने के तरीके

रैनसमवेयर यह नाम रातों रात बहुत बड़ा हो गया है। विश्व के करीब 150 देश दुनिया के सबसे बड़े साइबर अटैक को झेल रहे हैं। यूरोपीय यूनियन की एजेंसी यूरोपोल ने कहा है कि अभी भी खतरा टला नहीं है। इस अटैक से करीब दो लाख से ज्यादा सिस्टम प्रभावित हो चुके हैं और इसका दूसरा अटैक कभी भी हो सकता है। इसलिए इससे बचने के लिए हम आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं।

ऐसे करें अपना बचाव

— अपने सिस्टम को रैनसमवेयर वायरस से बचाने के लिए किसी अजनबी या अनजान शख्स या सोर्स के ईमेल को ओपन न करें।
— किसी जान पहचान वाले शख्स के उस ईमेल को ओपन न करें जिसका सब्जैक्ट अटपटा हो या रोज से कुछ अलग हो।
— जीमेल, याहू, हॉटमेल और रेडिफमेल पर अपने निजी मेल को ओपन न करें।
— पैन ड्राइव, पर्सनल पेन ड्राइव, अपना या कंपनी का एक्सटर्नल र्हाड डिस्क का इस्तेमाल न करें।
— ईकॉमर्स वेबसाइट से खरीदारी करते समय सावधान रहें, आॅनलाइन पेमेंट से बचें।
— फेसबुक, लिंक्डिन, ट्विटर का इस्तेमाल सावधानी से करें और कम से कम करें।

एैसे पहचानें कि आपके सिस्टम पर हमला हो चुका है

अगर किसी भी समय आपके कंप्यूटर पर ये तस्वीर या आइकन उभरता है, तो समझ लीजिए कि आपके कंप्यूटर पर साइबर हमला हो चुका है। तुरंत अपने कंप्यूटर को शट डाउन करें और आपनी आईटी टीम को इसकी जानकारी दें।