News in Hindi

GST Impact : 1 जुलाई से यह सामान होगा महंगा और सस्ता, जानें क्या है अभी खरीदने में फायदा

हमारे देश की कर प्रणाली बदलने जा रही है। 1 जुलाई से देशभर में जीएसटी यानी कि गुड्स एंड सर्विस टैक्स लागू होने जा रहा है। जीएसटी का ध्येय है एक देश एक टैक्स। यानी कि पूरे देश में अब एक समान टैक्स होगा। इसके तहत कुछ चीजें पहले के मुकाबले सस्ती हो जाएंगी तो कुछ महंगी। ऐसे में फिलहाल जगह जगह पर प्री जीएसटी सेल चल रही है। इन दो दिनों में बरती गई आपकी समझदारी आपकी जेब पर बड़ा असर डाल सकती है।

यहां हम आपकी मदद कर रहे हैं कि जीएसटी से पहले आपको किन चीजों को खरीद लेना चाहिए और किन चीजों को खरीदने के लिए जीएसटी का इंतजार करना चाहिए। ऐसा नहीं है कि जीएसटी आने के बाद सारी ही चीजें महंगी हो जाएंगी। हालांकि सब चीजें सस्ती भी नहीं होने वाली हैं।

होटल में खाना – महंगा

सालाना 75 लाख रुपए से कम टर्नओवर वाले रेस्टोरेंट में भोजन करना थोड़ा सस्ता होगा, क्योंकि इन पर 5 प्रतिशत जीएसटी लगेगा। हालांकि बिना एसी वाले रेस्टोरेंट्स में खाना खाना महंगा पड़ेगा, क्योंकि यहां 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा। पहले यहां 6 प्रतिशत वैट लगता था। बिना एसी वाले रेस्टोरेंट्स में भी खाना खाना महंगा ही हो जाएगा। इन्हें 18 प्रतिशत जीएसटी चुकाना होगा।

टेलिफोन बिल – महंगा

आपका टेलिफोन का बिल बढऩे वाला है। मौजूदा 15 प्रतिशत की बजाए अब इस पर 18 प्रतिशत जीएसटी लागू होने वाला है। आपका ब्यूटी पार्लर जाना भी महंगा होने वाला है।

दोपहिया वाहन – सस्ते

टू-व्हीलर्स जीएसटी आने से सस्ते होंगे। हालांकि ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा। इन पर वैट और एक्साइज ड्यूटी मिलाकर अभी 30 प्रतिशत लगता है, जबकि जीएसटी की दर 28 प्रतिशत होगी।

चार मीटर की लंबाई तक की छोटी कारें – सस्ती

बेशक छोटी कारें जीएसटी के आने से काफी सस्ती होने वाली हैं। वर्तमान में इन पर 40 प्रतिशत टैक्स लग रहा है। जीएसटी में इसे 29 प्रतिशत के स्लैब में रखा गया है। वहीं लग्जरी कारों के दाम भी घटेंगे, क्योंकि जीएसटी में ज्यादा से ज्यादा 43 प्रतिशत टैक्स ही लगेगा, जबकि अभी इन पर 46 प्रतिशत टैक्स लगता है।

फ्लाइट टिकट – सस्ती

इकोनॉमी क्लास में हवाई जहाज की यात्रा जीएसटी आने से थोड़ी सस्ती हो जाएगी। इस पर मौजूदा 5.60 प्रतिशत टैक्स की जगह जीएसटी में 5 प्रतिशत टैक्स लगेगा। हालांकि बिजनेस क्लास के टिकट महंगे हो जाएंगे, क्योंकि अभी इन पर 8.40 प्रतिशत टैक्स लगता है, जबकि जीएसटी में यह बढ़कर 12 प्रतिशत हो जाएगा।

स्मार्टफोन – सस्ते

मोबाइल खरीदने का मन है तो जीएसटी का इंतजार करें। 1 जुलाई से स्मार्टफोन पर 1.5 प्रतिशत कम टैक्स देना पड़ेगा। यानी कि स्मार्टफोन सस्ते होंगे।

कंज्यूमर ड्युरेबल्स – महंगे

कंज्युमर ड्युरेबल आइटम्स पर जीएसटी में कोई राहत नहीं मिलने वाली। फिलहाल इन सामानों पर 25 से 26 प्रतिशत टैैक्स लगता है, जीएसटी के बाद 2 प्रतिशत ज्यादा टैक्स देना होगा।

कपड़े – महंगे

1000 रुपए से कम कीमत के कपड़ों पर टैक्स में कोई बदलाव नहीं किया गया है। वहीं कीमती पोशाक महंगे हो जाएंगे। फिलहाल इन पर 8 प्रतिशत टैक्स लगता है, जबकि जीएसटी में 12 प्रतिशत लगेगा।

सिनेमा, थिएटर, केबल और डीटीएच सर्विस सस्ती हो जाएंगी। दवाइयों की कीमतें भी कम हो जाएंगी। वहीं बैंकिंग सर्विसेस, कोचिंग क्लासेस और रेट टिकट महंगे हो जाएंगे।