Times Bull
News in Hindi

बड़ा साइबर अटैक : यूरोप, यूक्रेन में बैंकिंग सेवाएं ठप, भारत में भी असर

एक बार फिर दुनिया के कुछ देश की चपेट में आ गए हैं। अभी कुछ ही दिनों पहले के अटैक ने कई जगह पर व्यवस्था पर असर डाला था। इस बार यूरोप के कई देशों पर साइबर हमला हुआ है। इस बार चपेट में भारत भी आया है। हालांकि सबसे ज्यादा प्रभावित यूरोप हुआ है। मंगलवार दोपहर ही यूक्रेन की बड़ी कंपनियों, एयरपोर्ट्स और सरकारी विभाग के कंप्यूटर्स को हैकर्स ने निशाना बनाया।

हमले की चपेट में यूरोप के अन्य देश भी आ गए। नीदरलैंड्स में भी बड़ी शिपिंग कंपनी हैकर्स के हत्थे चढ़ी। ब्रिटिश एड कंपनी डब्ल्यूपीपी की सेवा पर भी असर हुआ है। डेनमार्क और स्पेन की कई मल्टीनेशनल कंपनियों की भी सेवाओं के प्रभवित होने की खबर है।

Cyber Attack Ukrine

भारत में यहां हुआ असर

इस साइबर हमले में भारत का जवाहरलाल नेहरू पोर्ट भी आया है। इसकी वजह से पोर्ट का काम ठप हो गया। पोर्ट के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, जीटीआई पर संचालन रुक गया है, क्योंकि साइबर अटैक से सिस्टम बंद हो गए हैं। तकनीकी विशेषज्ञ इस समस्या का हल ढूंढ रहे हैं।

यूक्रेन प्रभावित

इस साइबर अटैक के कारण बड़ा संकट यूके्रन में आया है। वहां सरकारी मंत्रालयों, बिजली कंपनियों और बैंक के कंप्यूटर सिस्टम में बड़ी खराबी आई है। यूक्रेन का सेंट्रल बैंक, सरकारी बिजली वितरक कंपनी यूक्रेनर्गो, विमान निर्माता कंपनी एंतोनोव और दो डाक सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई है। राजधानी कीव की मेट्रो में पेमेंट कार्ड काम नहीं कर रहे हैं।

वॉनाक्राई रैनसमवेयर जैसा हमला

एक्सपर्ट्स की मानें तो यह पिछले महीने हुए वॉनाक्राई जैसा है। हालांकि इसमें कुछ अपडेशन भी हैं और यह नई तरह का वायरस अटैक है। एक्सपर्ट्स ने बताया कि यह वायरस उन्हीं कमजोरियों का इस्तेमाल कर रहा है जो रैनसमवेयर ने इस्तेमाल की थीं।

Related posts

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...