GDP: भारत बना दुनिया की पांचवीं अर्थव्यवस्था वाला बड़ा देश

नई दिल्ली, 18 फरवरी: भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) अब प्रधानमंत्री (Prime Minister) नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार के सपने को साकार करने की दिशा में प्रगति करती दिखाई दे रही है। भारत (India) की जीडीपी (GDP) के लिहाज से एक बहुत बड़ी खुशखबरी सामने आई है। वर्ल्ड पॉपुलेशन रिव्यू (World Population Review)  की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत अब विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था (Five Economy) पर कायम हो गया है, छलांग लगाते हुए ब्रिटेन और फ्रांस को भी पीछे छोड़ दिया है। अमेरिका के रिसर्च इंस्टीट्यूट वर्ल्ड पॉपुलेशन रिव्यू ने एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है।

इंस्टीट्यूट ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि आत्मनिर्भर बनने की पहले की पॉलिसी से भारत अब आगे बढ़ गया है और वह एक ओपन मार्केट वाली अर्थव्यवस्था के रूप में डेवलप हो रहा है।इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट के अनुसार, भारत सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के मामले में 2,940 अरब डॉलर के साथ विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बन गया है। जीडीपी के मामले में भारत ने पिछले साल में ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ दिया है। बता दें कि ब्रिटेन की इकोनॉमी 2830 अरब डॉलर की है, जबकि फ्रांस की अर्थव्यवस्था का आकार 2710 अरब डॉलर का है। क्रय शक्ति समता (PPP) के आधार पर भारत की GDP 10,510 अरब डॉलर है। यह जापान और जर्मनी से भी ज्यादा है। भारत में ज्यादा जनसंख्या के चलते प्रति व्यक्ति GDP 2,170 डॉलर है।

GDP: बड़ी अर्थव्यवस्था वाले दुनिया के टॉप-10 देश

देश                          2019 में जीडीपी (लाख करोड़ रुपए)         रैंक

अमेरिका                               1522                                  1

चीन                                      1004                                2

जापान                                    365                                 3

जर्मनी                                     284                                4

भारत                                     209                                 5

ब्रिटेन                                      201                                6

फ्रांस                                     192                                  7

इटली                                    141                                  8

ब्राजील                                  131                                  9

कनाडा                                 123                                  10

(वर्ल्ड पॉपुलेशन रिव्यू के मुताबिक जीडीपी आंकड़ें)

अमेरिका की बात करें, तो वहां की प्रति व्यक्ति जीडीपी 62,794 डॉलर है। हालांकि, पिछले कुछ समय में सुस्ती के चलते भारत की वास्तविक GDP ग्रोथ रेट लगातार तीसरी तिमाही में कमजोर रह सकती है। यह 7.5 फीसद से घटकर 5 फीसद पर आ सकती है। इंस्टीट्यूट ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि भारत में आर्थिक उदारीकरण की शुरुआत 1990 के दशक में हुई है। इसके बाद कई सुधार लाए गए। इंडस्ट्री को नियंत्रण मुक्त किया गया, विदेशी व्यापार और इन्वेस्टमेंट पर नियंत्रण कम किया व साथ ही पब्लिक सेक्टर की कंपनियों का निजीकरण किया गया। रिपोर्ट के अनुसार, इन उपायों से भारत को आर्थिक वृद्धि में तेजी लाने में मदद मिली है।

Notifications    Ok No thanks