HomeऑटोमोबाइलCar Scrapping Process: पुरानी कारों के साथ करें ये काम, मिलेंगे लाखों...

Car Scrapping Process: पुरानी कारों के साथ करें ये काम, मिलेंगे लाखों रुपए

Car Scrapping: देश मे वाहनों को स्क्रैपिंग करने के लिए कार निर्माता कंपनी होंडा कार्स इंडिया ने एक वाहन स्क्रैपिंग और रिसाइकलिंग करने वाली कंपनी मारुति सुजुकी टोयोत्सु इंडिया के साथ पार्टनरशिप किया है। कंपनी इससे अपने ग्राहकों को वाहन स्क्रैपिंग करने में सहूलियत पहुँचाना चाहती है। वहीं इससे ग्राहकों को अपनी कबाड़ हो चुकी पुरानी कार का सही दाम भी मिल जाएगा।

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले भारत सरकार ने देश मे मौजूद पुराने वाहनों को स्क्रैपिंग करने के लिए एक स्क्रैपिंग नीति को पेश किया है। इस नीति के तहत सरकार अनफिट और पुराने वाहनों की संख्या को देश मे कम करना चाहती है। अपने पुराने हो चुके वाहन की स्क्रैपिंग करवाने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट मिल जाता है। जिसे अगर आप कोई नई गाड़ी खरीदते समय दिखाते हैं तो आपको अतरिक्त 5 प्रतिशत का लाभ मिल जाता है।

होंडा कार्स ने वाहन स्क्रैपिंग को लेकर कहा है कंपनी के द्वारा किए गए इस पार्टनरशिप से ग्राहकों को उनके ELV के लिए उचित दाम मिलने में आसानी होगी। आपको बता दें कि ELV ऐसे वाहनों को कहा जाता है जिनकी उम्र पूरी हो चुकी हो। वहीं कंपनी डीलरों की मदद से रजिस्ट्रेशन खत्म करने और प्रमाण पत्र जारी करने की सुविधा देने वाली है।

Honda Cars India के प्रेसिडेंट व सीईओ ताकुया त्सुमुरा की माने तो कंपनी डीलरों के सहयोग से अपने ग्राहकों को उनकी पुरानी कारों को व्यवस्थित और पर्यावरण के अनुकूल तरीके से स्क्रैप करने के लिए एक हल देने जा रही है।

कंपनी अपनी इस सर्विस को सबसे पहले दिल्ली एनसीआर, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में शुरू करने वाली है। फिर इसे धीरे-धीरे देश के अन्य शहरों में भी शुरू कर दिया जाएगा। सरकार की इस नीति से बढ़ते हुए इस प्रदूषण को कम करने में काफी मदद मिलेगी। इससे पुराने वाहनों से सड़क पर हो रहे एक्सीडेंट को भी कम किया जा सकेगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular