नई दिल्ली: केंद्र और राज्य सरकार द्वारा कई सारी योजनाएं चलाई जा रही हैं। इन योजनाओं का मकसद देश के आम आदमी की आर्थिक समझिक रूप से मदद करना है। ऐसे उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एक योजना चलाई जा रही है, जिसका नाम यूपी कन्या सुमंगला योजना (Uttar Pradesh Kanya Sumangala Yojana) है,  तौर पर देश की बेटियों के लिए है। योगी सरकार ने 15 दिसंबर तक 2 लाख बेटियों को इस योजना से जोड़ने का लक्ष्य रखा है।

ये भी पढ़ें- बाजार में लॉन्च हुए दो नए सस्ते इलेक्ट्रिक स्कूटर, कम कीमत में रेंज और फीचर्स जबरजस्त मिल रहे

बता दें कि योगी सरकार ने यह योजना ‘मिशन शक्ति अभियान’ के तहत शुरू की है। ‘कन्या सुमंगला योजना’  का लाभ अब तक 10.01 लाख बेटियां ‘कन्या सुमंगला योजना’ का लाभ उठा चुकी हैं। वहीं सरकार ने अबतक इस योजना से 1.55 लाख बेटियों को जोड़ लिया है। जानकारी के अनुसार सरकार ने सितंबर में ही दो लाख बेटियों को जोड़ने की योजना बनाई थी।

क्या है Uttar Pradesh Kanya Sumangala Yojana?

इस योजना के तहत बेटियों को उनके जन्म के समय से चरणबद्ध तरीके से 15,000 रुपये की राशि का लाभ दिया जाता है। जैसे- जन्म के समय और पहले टीकाकरण पर 2,000 रुपये और 1,000 रुपये की राशि दी जाती है। इसके बाद बेटी के स्कूल में कक्षा 1 से 6 में प्रवेश के समय 2,000 रुपये मिलते हैं। इसके बाद बेटी के कक्षा 9 में प्रवेश के समय 3,000 रुपये दिए जाते हैं। इसके बाद अंतिम किस्त 5,000 रुपये की बेटी के कक्षा 12 में प्रवेश, स्नातक या डिप्लोमा पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने पर दी जाती है।

UP Kanya Sumangala Yojana इस योजना के लिए योग्यता

परिवार की सालाना आय अधिकतम तीन लाख रुपये तक होनी चाहिए।

उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए। साथ ही स्थायी निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए।

इस योजना का लाभ एक परिवार में अधिकतम दो बेटियों को दिया जाएगा।

वहीं अगर किसी परिवार जुड़वां बेटियां होती है और इसके बाद तीसरी बेटी होती हैं तो तीनों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

Uttar Pradesh Kanya Sumangala Yojana में कैसे करें आवेदन

आप जन सुविधा केंद्र/सीएससी केंद्र पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। इसके आलावा यूपी कन्या सुमंगला योजना ( Uttar Pradesh Kanya Sumangala Yojana ) की आधिकारिक वेबसाइट www.mksy.up.gov.in पर जाकर भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। इसके अलावा प्रखंड विकास पदाधिकारी, एसडीएम, जिला परिवीक्षा अधिकारी, उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारी फार्म भरकर कार्यालय में जमा करा सकते हैं।


Latest News