News in Hindi

यह रुद्राक्ष पहनने वाला कभी भी नहीं होता गरीब

गरीबी से हर किसी को डर लगता है। यहां तक कि सुपरस्टार शाहरुख खान तक यह बात स्वीकार कर चुके हैं कि उन्हें जीवन में किसी चीज से डर नहीं लगता, सिवाय गरीबी के। अगर आप भी चाहते हैं कि आपकी जेबें हमेशा पैसों से भरी रहें और आप पर लक्ष्मी जी हमेशा मेहरबान रहें तो आपको भी यह रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। यह तो हम सब जानते हैं कि भगवान शिव रुद्राक्ष को आभूषण के रूप में पहनते हैं।

रुद्राक्ष के बिना महादेव का श्रंगार अधूरा होता है। शिवपुराण की विद्येश्वर संहिता के अनुसार रुद्राक्ष 14 तरह के होते हैं। इनमें से एकमुखी रुद्राक्ष धारन करने वाला कभी गरीब नहीं होत, उस पर मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है। शिवपुराण में ऐसा लिखा गया है। रुद्राक्ष को आकार के हिसाब से तीन श्रेणियों में बांटा गया है-

उत्तम श्रेणी – यह रुद्राक्ष आंवले के आकार के बराबर होता है।
मध्यम श्रेणी – इस रुद्राक्ष का आकार बेर के फल के समान होता है।
निम्न श्रेणी – यह रुद्राक्ष चने के बराबर आकार का होता है।

जिस रुद्राक्ष को कीड़ों ने खराब कर दिया हो, या वह टूटा-फूटा हो, या पूरा गोल न हो, या उस पर उभरे हुए दाने न हों, ऐसा रुद्राक्ष कभी नहीं पहनना चाहिए। वहीं जिस रुद्राक्ष में अपने आप डोरा पिरोने के लिए छेद हो गया हो, वह उत्तम होता है।