ऐसे कई जानवर हैं जिन्हें लोग बड़े चाव से घर में रखते हैं, वहीं कई ऐसे जानवर भी हैं जो घर में बिन बुलाए मेहमान की तरह होते हैं। ऐसे जानवरहैं चूहे, चींटियां आदि, जो अक्सर घर में घूमते नजर आते हैं। वास्तु शास्त्र और शकुन शास्त्र के अनुसार घर में चूहे, काई आदि जानवरों का आनाशुभ और अशुभ संकेत देता है। आइए जानते हैं इन शुभ और अशुभ संकेतों के बारे में

शकुन शास्त्र के अनुसार यदि किसी घर में अचानक काले चूहों की संख्या बढ़ जाती है तो मान लें कि घर में किसी रोग या शत्रु के कारण परेशानीहोने वाली है। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर से बाहर निकलते समय चूहे का दिखना अशुभ माना जाता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार जिस घर में चूहेरहते हैं उस घर में सुखशांति धीरेधीरे खत्म होने लगती है।

शकुन शास्त्र के अनुसार जिस घर में चूहों का बिल होता है उस घर के कोनों में नकारात्मक ऊर्जा का वास होता है। शकुन शास्त्र के अनुसार जहांघर में चूहों का होना नकारात्मकता का प्रतीक माना जाता है, वहीं घर में तिल का होना देवी लक्ष्मी का वास माना जाता है। शकुन शास्त्र केअनुसार यदि किसी व्यक्ति के चारों ओर कोई तिल घूमता है, तो इसका मतलब है कि भविष्य में उस व्यक्ति को कुछ लाभ मिलने की संभावना है।शकुन शास्त्र के अनुसार अगर घर में तिल दिखाई दे तो समझ लें कि आपके घर से कोई बड़ा संकट टल गया है।

चूहों को घर से दूर रखने के लिए करें ये उपाय

भगवान गणेश चूहे की सवारी करते हैं। इसलिए इनका वध करना शुभ नहीं माना जाता है। चूहों को घर से दूर रखने के लिए आप उन्हें पिंजरे मेंबंद करके घर से दूर कहीं छोड़ सकते हैं। लाल मिर्च पाउडर को आप जिस घर में चूहे देखते हैं उस घर में भी रख सकते हैं।

यहां भी जरूर पढ़े : Old Coins : अगर आपके पास नहीं है कोई जॉब,तो पुराने सिक्कों को बेचकर खड़ा करें करोड़ों का बिजनेस 

यहां भी जरूर पढ़े : Earn Money: 100 रुपये का ये नोट आपको रातों रात बना देगा लखपति

Recent Posts