नई दिल्ली – शादी एक ऐसा पवित्र बंधन है, जो दो अलग-अलग व्यक्ति एवं परिवारों को एक रिश्ते में बांधता है। हर कोई चाहता है कि उसका वैवाहिक जीवन खुशहाल एवं शांतिपूर्ण तरीके से बीते, लेकिन कुछ वास्तु कारणों और ग्रहों के चलते पति पत्नी के बीच में खुशहाल रिश्ता नहीं बनने देती है। ऐसे में वास्तु शास्त्र में कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं जिनके प्रयोग से पति पत्नी के बीच में सुखद और खुशहाल रिश्ता बनाया जा सकता है। आइए जानते हैं वास्तु शास्त्र के मुताबिक किन वास्तु टिप्स से रिश्ता सुधारा जा सकता है-

1.बेडरूम का स्थान

हमेशा वैवाहिक जीवन में शांति और सुख बनाए रखने के लिए बेडरूम का स्थान घर के दक्षिण पश्चिम या उत्तर पश्चिम दिशा में होनी चाहिए। इसके अलावा पति पत्नी को दक्षिण दिशा की ओर सिर रखकर सोना चाहिए। इससे पॉजिटिव एनर्जी आती है।

2.लकड़ी के फर्नीचर का करें प्रयोग

बेडरूम में केवल लकड़ी के फर्नीचर का ही उपयोग की करना चाहिए, चाहे वह बेड हो, ड्रेसिंग टेबल हो, स्टडी टेबल हो या अलमीरा अन्य धातु के फर्नीचर को कमरे में रखने से बचना चाहिए।

3.एक ही गद्दे का करें प्रयोग – अक्सर बाजार में बड़े बैठ के लिए दो गद्दे खरीदे जाते हैं लेकिन वास्तु शास्त्र के अनुसार कमरे में दो गद्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। इससे वैवाहिक संबंध में दूरियां आती है। वैवाहिक जीवन में सकारात्मकता लाने के लिए एक ही गद्दे का उपयोग किया जाना चाहिए।

4. हल्के रंगों का प्रयोग बेडरूम को अक्सर गुलाबी हरे और नीले रंग के हल्के और खूबसूरत रंगों से रंगना चाहिए हो सके तो गहरे रंगों से कमरे को ना रंगे इससे नेगेटिविटी आती है और वैवाहिक संबंध में बाधाएं उत्पन्न होती है।


Latest News