Times Bull
News in Hindi

ये है भिखारियों का बैंक, सबसे कम ब्याज दर पर देता है लोन 

बिहार में गया के प्रसिद्ध मंगलागौरी मंदिर के दर पर सैकड़ों भिखारी अपना जीवन बसर करते हैं। सुख-दुख में साथ रहने वाले भिखारियों ने अपने लोगों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए बैंक खोलने की सोची।

अपनी सोच को साकार करते हुए भिखारियों ने ‘मंगला’ नाम से बैंक खोला। रुपया जमा करने और निकालने के अलावा बैंक जरूरत पड़ने पर लोन भी देता है। बैंक मैनेजर, मनी कलेक्टर, सेक्रेटरी जैसे सभी पदों पर भिखारी ही नियुक्त हैं।
ये (मंगला बैंक) ही ऐसा बैंक है जो सबसे कम दो से पांच प्रतिशत की दर से लोन देता है। 40 सदस्यीय इस बैंक के कई सदस्यों के पास न तो बीपीएल और न ही आधार कार्ड है। बैंक मैनेजर राजकुमार मांझी ने बताया कि बैंक में हर सदस्य प्रत्येक मंगलवार को बीस रुपए जमा करता है। हफ्ते में 800 रुपए जमा हो जाते हैं।

मांझी बताते हैं कि कुछ समय पहले मेरी बहन और बेटी खाना बनाते वक्त जल गई थी। इलाज के लिए रुपयों की सत जरूरत थी, तब बिना पेपर वर्क के बैंक ने आठ हजार रुपए का लोन दिया। भिखारियों की जरूरतों को पूरा करने के लिए पिछले साल ये बैंक शुरू हुआ है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.