ताजमहल के वो 3 राज़ जो आपको पता नहीं होंगे, जानिए यहां

ताजमहल के वो 3 राज़ जो आपको किसी ने नही बताई होंगे

लकड़ी पर बना है ताजमहल

ताजमहल की नींव एक विशेष प्रकार की लकड़ी पर रखी गयी थी। यह लकड़ी एक ऐसी लकड़ी है जो नमी सौंखती है। जिस स्थान पर ताजमहल का निर्माण करवाया जा रहा था उस स्थान की जमीन में काफी मात्रा में नमी मौजूद थी इसलिए उस स्थान पर जब नमी रहेगी तब तक ताजमहल मजबूती के साथ खड़ा रहेगा।

बिना मशीन के फव्वारे

ताजमल में लगे सभी फव्वारे एक साथ काम करते है। इन फव्वारों में कोई भी मशीन नही लगी हुई है। प्रत्येक फव्वारें के नीचे एक टंकी लगी हुई है जो एक निश्चित दबाव बनने के बाद पानी बाहर फेंकती है।

मीनारे एक दूसरे की तरफ झुकी हुई

ताजमहल की मीनारे एक दूसरे की तरफ झुकी हुई है। जब ताजमहल का निर्माण हो रहा था उस समय के इंजीनियरों ने बहुत दिमाग लगाया था। उन्होंने इन मीनारों को इस प्रकार से बनाया था कि वह भूकम्प आने पर मुख्य इमारत पर न गिरे।

You might also like
Loading...