Times Bull
News in Hindi

मदद की बजाए मोबाइल में कैद की वारदात

न्यूयॉर्क में 21 साल की एक युवती शाम लगभग 4 बजे लेक्सिंगटन एवेन्‍यू से 42 स्‍ट्रीट मेनहटन जाने के लिए ट्रेन में सवार हुई। ट्रेन में बैठी युवती को जब झपकी लगी तो उसके पास बैठे एक शख्स ने उसे किस करने की कोशिश की।

इस बीच युवती की नींद टूटी और वह आरोपी को धक्‍का देकर वहां से भाग गई। छेड़छाड़ की इस पूरी वारदात को वहां बैठे एक लड़के जशीम स्‍माईली ने मोबाइल में कैद कर लिया और उसे इंटरनेट पर अपलोड भी कर दिया।

वीडियो जब इंटरनेट पर वायरल होने लगा तो पीड़ित युवती को भी पता चला। उसके साथ हुई छेड़छाड़ की वारदात को उसकी एक फ्रेंड ने दिखाया। वीडियो के वायरल हो जाने की वजह से युवती की भी काफी बदनामी हुई और उसे मानसिक प्रताड़ना का सामना करना पड़ा। हालांकि बाद में न्‍याय की मांग करते हुए युवती ने भी खुद फेसबुक पर अपना वीडियो अपलोड कर दिया।

दूसरी ओर मदद की बजाए सिर्फ वीडियो बनाने पर स्‍माईली को भी जमकर आलोचना का सामना करना पड़ा। स्‍माईली ने बाद में एक और वीडियो डाला, जिसमें उसने सफाई दी है। इसमें उसने बताया कि उसे डर था कि आरोपी के पास हथियार हो सकता है। उसने कहा कि वहां और भी लोग थे, लेकिन वो भी मदद के लिए नहीं आए। उसके मुताबिक उसने वीडियो दिखाकर पुलिस को भी वारदात की जानकारी दी, लेकिन उसकी बातों पर ध्‍यान नहीं दिया गया।
 
वीडियो वायरल होने और पीड़ित युवती की ओर से आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग पर पुलिस हरकत में आई। पुलिस ने आरोपी कार्लोस चुवो (उम्र43 साल) को गिरफ्तार कर लिया।  पुलिस ने अरोपी को प्रथम श्रेणी के यौन उत्‍पीड़न का आरोपी माना।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.